झारखंड विधानसभा मानसून सत्र में सरयू राय ने सरकार को दी चुनौती, कहा- उत्तर सही हुआ तो सदन से दे दूंगा इस्तीफा

रांची, 2 अगस्त। झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के तीसरे दिन मंगलवार को विपक्ष के हंगामे के बीच प्रश्नकाल शुरू हुआ। निर्दलीय विधायक सरयू राय ने पहले अल्पसूचित प्रश्न में हरमू नदी का मुद्दा उठाया। उन्होंने सरकार के जवाब को चुनौती देते हुए कहा कि यह जवाब 100 प्रतिशत गलत है। साथ ही कहा कि सरकार ने जो जवाब दिया है यदि वो सही हुआ तो वह कल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे।

उन्होंने कहा कि हरमू नदी की स्थिति यह है कि कोई वहां नाक तक नहीं दे सकता। साथ ही आसन से इस मामले की जांच के लिए विधानसभा की विशेष कमिटी बनाने की मांग की।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड हर माह देता है रिपोर्ट : चंपई सोरेन

सरयू राय के प्रश्न के जवाब में प्रभारी मंत्री चम्पई सोरेन ने कहा कि हरमू नदी हो या स्वर्णरेखा या दामोदर सभी के प्रदूषण की हर महीने रिपोर्ट केंद्रीय प्रदूषण बोर्ड को भेजी जाती है। उन्होंने कहा कि वह यह नहीं कहते कि नदियां प्रदूषण मुक्त हो गयीं हैं। इन नदियों के किनारे औद्योगिक क्षेत्र, माइंस एरिया और बड़े-बड़े शहर बसे हुए हैं। इसलिए इसपर लगातार काम हो रहा है।

सरयू राय ने कहा कि जिस पदाधिकारी ने यह उत्तर तैयार किया है उसपर कार्रवाई हो। सदन को गुमराह किया गया है। वैसे पदाधिकारी को बर्खास्त किया जाय। स्पीकर ने कहा कि मंत्री और प्रश्नकर्ता विधायक जाकर स्थल पर देखें। जरूरत हुआ तो इसपर और कार्रवाई की जाएगी।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.