Indian Navy : नौसेना के हेलीकॉप्टरों ने तूफान प्रभावित इलाकों में भोजन के पैकट ‘एयर ड्रॉप’ किए

नई दिल्ली, 28 मई ​​​​। चक्रवात ‘यास’ के बाद भारतीय नौसेना ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तीसरे दिन भी राहत अभियान जारी रखा है। बंगाल के प्रभावित इलाकों में नौसेना की सात टीमें ​बचाव और राहत कार्यों में लगी हैं। इसी तरह ओडिशा में भद्रक जिले के लोगों के लिए 04 जहाज राहत सामग्री लेकर ​धामरा लंगरगाह पहुंचे, जहां तूफान ने लैंडफाल किया था।​

जलजमाव से सबसे ज्यादा प्रभावित ​बालासोर जिले में ​नौसेना आपदा राहत दल ने सामुदायिक रसोई शुरू करके करीब 700 लोगों को भोजन वितरित किया है। नौसेना ने प्रभावित इलाकों में शुक्रवार को भोजन के पैकट ‘एयर ड्रॉप’ करने के लिए ​हेलीकॉप्टरों को लगाया है।
​​
​पश्चिम बंगाल में आईएनएस नेताजी सुभाष के राहत नियंत्रण केंद्र ने राज्य आपातकालीन संचालन केंद्र (एसईओसी) के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन से समन्वय किया है। राज्य के सबसे अत्यधिक जलमग्न निचले तटीय इलाके दीघा और फ्रेजरगंज में नौसेना ने अपने राहत और बचाव कार्यों को केंद्रित किया है। यहां दो डाइविंग और पांच बाढ़ राहत टीमों के साथ भारतीय नौसेना राहत गतिविधियों को अंजाम दे रही है।

भारी बारिश और खराब मौसम के बावजूद फ्रेजरगंज से लगभग 30 किलोमीटर दूर नारायणपुर गांव में गुरुवार को एक बाढ़ राहत टीम तैनात की गई है। इस टीम को एक पलटी हुई नाव के बचे लोगों की तलाश करने के लिए लगाया गया है। एक अन्य बाढ़ राहत टीम ने दीघा जिले के आसपास के गांवों जैसे खादलगोबरा, अलंकारपुर आदि में सड़कें साफ करने का काम किया और कुछ जरूरतमंद लोगों को सहायता वितरित की।

​इसी तरह ​भारतीय नौसेना ने​ ओडिशा के बालासोर में चक्रवात प्रभावित क्षेत्रों में राहत अभियान जारी रखा​ है।​​ ​​​नौसेना आपदा राहत दल ​ने ​जलजमाव से सबसे ज्यादा प्रभावित​ ​​​बालासोर जिले के सदर ब्लॉक में परीखी गांव के आसपास के क्षेत्र में राहत गतिविधियों को अंजाम ​दिया है​।​​ ​एचएडीआर नौसेना टीम ने इसी गांव के बहुउद्देशीय चक्रवात आश्रय में एक सामुदायिक रसोई की स्थापना की है।​ इस रसोई में 700 लोगों के लिए भोजन तैयार करके आसपास के गांव ​बुधिगड़िया, नंदाचक, बौलबेनी ​की मछुआरे कॉलोनियों में वितरित किया गया। ​इस ​सामुदायिक रसोई ​से प्रभावित लोगों ​को संकट के समय काफी मदद मिली है जिसके लिए ग्रामीणों ने नौसेना का आभार व्यक्त किया​ है​।

एक अन्य नौसेना राहत दल​ आज सुबह ओडिशा ​के उत्तर​ में स्थित मछली पकड़ने ​वाले ​प्रभावित​​ गांवों ​​तलासरी, भोगराई, चंद्रमणि और इंचुंडी में राहत सामग्री वितरित करने के लिए ​रवाना हुआ है। ​​भद्रक जिले के लोगों को राहत​ सामग्री देने के लिए​ 04 नौसैनिक जहाज धामरा लंगरगाह पहुंच चुके हैं,​ जहां तूफान ने लैंडफाल किया था।​

बालासोर जिले में ​राहत एवं बचाव कार्य बढ़ाने के लिए​ नौसेना के जहाजों से ​​कई ​​हेलीकॉप्टरों को लॉन्च किया गया ​है। ​इन ​हेलीकॉप्टरों​ ​ने राहत टीम को वितरण के लिए तैयार 100 खाद्य सामग्री के पैकेट और 300 सूखे राशन के पैकेट ​’एयर ड्रॉप’​ किये हैं​​। नौसेना की टीम ने बालासोर में कुछ​ टूटे मकानों की मरम्मत और सड़कों की कटाई​, ​सफाई भी की है।

​(हि.स​​.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES