Indian Super League : बेंगलुरू के खिलाफ ड्रा से रेनेडी और ईस्ट बंगाल को मिली निराशा

गोवा, 5 जनवरी । बेंगलुरू एफसी और एससी ईस्ट बंगाल ने मंगलवार रात हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2021-22 के लीग मैच में 1-1 से ड्रा खेलकर अंक बांटे। इस ड्रा से ईस्ट बंगाल एक बार जीत से दूर रह गई है और साइड लाइन पर पूरे निर्धारित समय तक खड़े रहे अंतरिम कोच रेनेडी सिंह को निराशा जरूर हुई।

ईस्ट बंगाल नौ मैचों में पांच ड्रा से पांच अंक लेकर 11 टीमों की तालिका सबसे निचले पायदान पर कायम है। वहीं, बेंगलुरू एफसी दस मैचों में दस अंक लेकर आठवें स्थान पर बनी हुई है। उसने दो मैच जीते हैं और चार ड्रा खेले हैं।

बैम्बोलिम स्थित जीएमसी एथलेटिक स्टेडियम में खेला गया यह मुकाबला रोमांच पैदा करने में नाकाम रहा। दोनों गोल ईस्ट बंगाल की ओर से हुए। सेम्बोई ने अपनी पूर्व टीम के खिलाफ गोल दागा, तो रेड एंड गोल्ड ब्रिगेड के उनके साथी सौरभ दास आत्मघाती गोल करके स्कोर 1-1 कर बैठे। उनके इस आत्मघाती गोल ने बेंगलुरू को शर्तिया हार से बचा लिया, क्योंकि पूरे निर्धारित समय के दौरान केवल एक ही शॉट सही निशाने पर बेंगलुरू की तरफ से लगा, जिसे स्थानपन्न खिलाड़ी सुनील छेत्री ने लगाया। बेंगलुरू को मौके नहीं मिलने की वजह ईस्ट बंगाल के चारों डिफेंडरों द्वारा अपना काम बखूबी ढंग से करना रहा। ईस्ट बंगाल के डिफेंडर आदिल खान को शानदार रक्षण के लिए हीरो ऑफ द मैच अवार्ड से नवाजा गिया।

पहला हाफ नीरस रहा। इस दौरान कोई भी आकर्षक फुटबाल का प्रदर्शन नहीं कर सकी। हालांकि ईस्ट बंगाल की ओर से सेम्बोई ने गोल दागा जरूर। लेकिन इसके अलावा कोई भी ऐसा हमला दोनों टीमों की तरफ से नहीं किया गया, जो विपक्षी डिफेंस या गोलकीपर को परेशान कर सके। बेंगलुरू एफसी के गोलकीपर गुरप्रीत संधू और डिफेंस की गलती से ईस्ट बंगाल को दो बार अवसर मिले थे लेकिन गोल नहीं हुई। इस तरह हाफ टाइम तक ईस्ट बंगाल 1-0 से आगे रही।

मैच का पहला गोल 28वें मिनट में थोगखोसिएम होकिप “सेम्बोई” ने दागा और ईस्ट बंगाल को 1-0 की बढ़त दिला दी। दाहिने फ्लैंक पर मिली फ्री-किक पर मिडफील्ड वाहेंगबम लुवांग ने शानदार फ्लोटेड किक लगाई और बॉक्स के अंदर मणिपुरी फॉरवर्ड ने डाइव लगाते हुए हैडर से गेंद को सेकेंड पोस्ट की ओर फ्लिक कर दिया और बेंगलुरू के कप्तान व गोलकीपर गुरप्रीत संधू अपनी दाहिनी तरफ डाइव लगाने के बावजूद गेंद को गोलपोस्ट में जाने से नहीं रोक सके। इस तरह सेम्बोई ने अपने पूर्व क्लब बेंगलुरू के खिलाफ गोल दाग दिया।

हालांकि सेम्बोई दूसरे हाफ में सुनहरा अवसर चूक गए, जो उनकी टीम को जीत दिला सकता था। 55वें मिनट में ईस्ट बंगाल के मिडफील्डर सौरभ दास के आत्मघाती गोल से बेंगलुरू को 1-1 की बराबरी मिल गई। एक कॉर्नर किक के दौरान रौशन नौरेम का लेफ्ट फुटर क्रॉस सौरभ के हैड से फ्लिक होने के बाद गोलपोस्ट अंदर चला गया और ईस्ट बंगाल के कप्तान व गोलकीपर अरिंदम भट्टाचार्य भी गेंद को नहीं रोक सके।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *