INX Media Case : आईएनएक्स मीडिया मामले में ट्रायल कोर्ट के फैसले के खिलाफ सीबीआई की याचिका हाई कोर्ट से खारिज

नई दिल्ली, 10 नवंबर । दिल्ली हाईकोर्ट की जस्टिस मुक्ता गुप्ता की बेंच ने आईएनएक्स मीडिया डील मामले में मालखाने में रखे गए दस्तावेज आरोपितों को देखने के ट्रायल कोर्ट के फैसले के खिलाफ सीबीआई की ओर से दायर याचिका खारिज कर दी है। कोर्ट ने 27 अगस्त को यह फैसला सुरक्षित रख लिया था।

कोर्ट ने 9 अगस्त को सीबीआई से कहा था कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया है कि जब चार्जशीट दाखिल की जाती है, उसके बाद जांच एजेंसी उन सभी दस्तावेजों की सूची बनाएगी, जिन पर वह भरोसा करती है। अगर आरोपित चाहे तो आवेदन देकर उन दस्तावेजों का परीक्षण कर सकता है।

सुनवाई के दौरान सीबीआई की ओर से वकील अनुपम एस शर्मा और प्रकर्ष ऐरन ने पिछले 5 मार्च को स्पेशल सीबीआई जज एमके नागपाल के आदेश पर रोक लगाने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि ट्रायल कोर्ट ने अपने क्षेत्राधिकार का उल्लंघन किया और सीबीआई को निर्देश दिया था कि वो जांच के दौरान मिले सभी दस्तावेजों और बयानों को कोर्ट में पेश करे और उनकी प्रति आरोपितों को दे। उन्होंने कहा था कि कोर्ट ने ये भी जानने की कोशिश नहीं की कि सीबीआई उन दस्तावेजों को आधार बना रही है कि नहीं। उन्होंने कहा था कि अपराध प्रक्रिया संहिता में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है कि कोर्ट जांच एजेंसी को निर्देश दे कि वो उन दस्तावेजों को सौंपने का निर्देश दे, जिस पर वो भरोसा नहीं भी कर रही है।

राऊज एवेन्यू कोर्ट ने 24 मार्च को ईडी की ओर से दाखिल चार्जशीट पर संज्ञान लिया था। कोर्ट ने मनी लांड्रिंग एक्ट की धारा 3 और 70 के तहत दायर चार्जशीट पर संज्ञान लिया था। इस मामले में सीबीआई ने 15 मई, 2017 को एफआईआर दर्ज की थी। उसके बाद ईडी ने 18 मई, 2017 को एफआईआर दर्ज की थी। सीबीआई ने भारतीय दंड संहिता की धारा 120बी, 420 और भ्रष्टाचार निरोधक कानून की धारा 8, 12(2) और 13(1)(डी) के तहत आरोप लगाए हैं। ये एफआईआर आईएनएक्स मीडिया की निदेशक इंद्राणी मुखर्जी और चीफ आपरेटिंग अफसर पीटर मुखर्जी की शिकायत पर दर्ज की गई थी। कार्ति चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रोमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) से अनुमति दिलवाने के लिए आईएनएक्स मीडिया से पैसे वसूले थे।

इस मामले में जिन लोगों को आरोपित बनाया गया है, उनमें पी चिदंबरम, कार्ति चिदंबरम, सुब्रमण्यम भास्करन, मेसर्स एडवांटेज स्ट्रेटैजिक कंसल्टिंग सिंगापुर लिमिटेड, आईएनएक्स मीडिया प्राइवेट लिमिटेड एडवांटेज इस्ट्रेटेजिया इस्पोर्टिवा एसएलयू, मेसर्स क्रिया एफएमसीजी डिस्ट्रिब्युटर्स प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स नॉर्थ स्टार सॉफ्टवेयर साल्युशंस प्राइवेट लिमिटेड कंसल्टेंसी प्राइवेट लिमिटेड शामिल हैं।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *