ISKCON’s Gita Diploma Course will be linked with spirituality : अध्यात्म से जोड़ेगा इस्कान का गीता डिप्लोमा कोर्स, 108 श्लोकों की महत्ता जन-जन तक पहुंचाई जाएगी

कानपुर। अब युवाओं को श्रीमद्भगवद गीता का महत्व और मानव जीवन में उसकी उपयोगिता से इस्कान मंदिर परिचित कराएगा। इसके लिए गीता डिप्लोमा कोर्स की शुरुआत की जा रही है। गीता के 18 अध्यायों पर आधारित 18 दिवसीय निःशुल्क कोर्स युवाओं को अध्यात्म के साथ ही शिक्षित और संस्कारवान बनाएगा। साथ ही गीता के 108 महत्वपूर्ण श्लोकों की महत्ता भी जन-जन तक पहुंचाई जाएगी, ताकि युवा जीवन के सही मार्ग पर चल सकें।

शहर के मैनावती मार्ग स्थित इस्कान मंदिर के आदिश्याम दास ने बताया कि कर्म सिद्धांत व विपरीत परिस्थितियों में युवा मन को शांत रखने के उपायों की जानकारी भी कोर्स में दी जाएगी। प्रत्येक अध्याय के महत्व, उससे जीवन में पडऩे वाले प्रभावों की जानकारी भी इसमें शामिल की जाएगी। प्रतिदिन आनलाइन पाठशाला में एक अध्याय पढ़ाया जाएगा। 18 दिवसीय डिप्लोमा कोर्स के साथ युवाओं को श्लोकों के महत्व बताते हुए उन्हें कंठस्थ कराया जाएगा।

कोर्स पूरा होने के बाद इस पर आधारित परीक्षा का आयोजन भी होगा, जिसमें शामिल होने वालों को इस्कान की ओर से प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। इस्कान मंदिर के मीडिया प्रभारी कुर्मावतार दास ने बताया कि डिप्लोमा कोर्स से बड़ी संख्या में शिक्षाविद् जुड़ रहे हैं। शिक्षक व विद्यार्थियों के जुडऩे से गीता का सार्थक संदेश जन-जन तक पहुंचाया जा सकेगा। इसमें आइआइटियंस के साथ शीर्ष शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोग भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। आइआइटियंस गीता के श्लोक पढ़कर उन्हें देश-दुनिया तक पहुंचाने की तैयारी में जुटे हैं।

ऐसे कर सकते डिप्लोमा कोर्स : कानपुर स्थित इस्कान मंदिर प्रबंधक के मुताबिक, उनकी वेबसाइट पर जाकर डिप्लोमा कोर्स के संबंध में विस्तार से जानकारी ली जा सकती है। इसमें कोर्स में पंजीकरण कराने, पढ़ाई से लेकर परीक्षा तक का शेड्यूल दिया गया है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *