ISL Football 2021 : फाइनल का टिकट हासिल करने के लिए दो-दो हाथ करेंगे एटीकेएमबी, नॉर्थईस्ट

गोवा, 09 मार्च । एटीके मोहन बागान और हाईलैंडर्स नाम से मशहूर नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी की टीमों ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन के दूसरे सेमीफाइनल के पहले चरण में 1-1 से ड्रॉ खेला था। अब जबकि दूसरा चरण मंगलवार को फातोर्दा के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में होना है, दोनों टीमें अपना पूरा दमखम झोंकेत हुए फाइनल का टिकट हासिल करना चाहेंगी।

हाईलैंडर्स टीम पहली बार फाइनल में जाने के लिए प्रयासरत है जबकि एंटोनियो हाबास की देखरेख में एटीके मोहन बागान तीसरी बार फाइनल खेलना चाहेगी। हाईलैंडर्स ने अंतिम मिनट में इदरिसा सिल्ला द्वारा किए गए गोल की मदद से हाबास की टीम को जीत नहीं हासिल करने दिया था। इस टीम ने हालांकि 34वें मिनट में बढ़त हासिल कर ली थी। कोलकाता टीम का डिफेंस पूरे सीजन के दौरान काफी मजबूत रहा है।

इस टीम ने सिर्फ 15 गोल खाए हैं लेकिन इस टीम ने अपने बीते तीन मैचों में पांच गोल खाए हैं, जिसके कारण उसे विनर्स शील्ड गंवाना पड़ा4। कोच हाबास मानते हैं कि इस तरह के हालात आते हैं और क्योंकि कई मौकों पर खिलाड़ी अपना ध्यान खो देते हैं।

हाबास हालांकि अगले मैच को लेकर रिलैक्स्ड नजर आए। हाबास ने कहा, ‘‘ किसी तरह का दबाव नहीं है। यह बड़े मौके भुनाने का अवसर है और यह मौका दोबारा हाथ नहीं आएगा। हमें इस पल का लुत्फ लेना होगा। हमें अपना श्रेष्ठ देते हुए सेमीफाइनल के एंजॉय करना होगा।’’ खालिद जमील की टीम, जो कि बीते 10 मैचों से अजेय है, के बारे में उनके अप्रोच पर पूछे जाने पर हबास ने कहा, ‘‘मैंने अपने खिलाड़ियों से संयम बनाए रखने के लिए कहा है। रणनीति बिल्कुल साफ है। संयम बनाए रखते हुए अच्छी फुटबाल खेलना है। ’’

बागान टीम मंगलवार को एक बार फिर डेविड विलियम्स और रॉय कृष्णा पर आश्रित होगी क्योंकि दोनों इस स्तर पर लक्ष्यों के साथ योगदान करने में कभी असफल नहीं हुए। नॉर्थईस्ट के लिए, जो जमील की देखरेख में अब तक नाबाद है, यह उसका पहला फाइनल होगा, बशर्ते वह एटीकेएमबी को हरा दे।

जमील ने कहा, “हमें परिणाम प्राप्त करने पर ध्यान केंद्रित करना होगा क्योंकि यह एक करो या मरो का खेल है। हमेशा दबाव होता है। मैंने लड़कों को इस दबाव का आनंद लेने के लिए कहा है। दोनों टीमों को अवे के गोल नहीं होने के कारण परिणाम के लिए लड़ना है, इसलिए यह हमारे प्रतिद्वंद्वी के लिए भी समान है।”

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *