ISL Football 2021: खिताबी मुकाबले में एक-दूसरे से भिड़ेंगी मुम्बई सिटी एफसी और एटीके मोहन बागान

गोवा, 13 मार्च । हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन का फाइनल मैच शनिवार रात फातोर्दा के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेला जाएगा, जहां लीग चरण की टॉपर मुम्बई सिटी एफसी का सामना मौजूदा चैम्पियन एटीके मोहन बागान से होगा और इस फाइनल की विजेता टीम ट्रॉफी को अपने घर ले जाएगी।

दोनों टीमें इस सीजन में अधिकतर समय तक टॉप स्थानों पर ही रही है। दोनों टीमों ने लीग चरण में 12 मैच जीते हैं जबकि केवल चार ही हारे हैं।

एक रोमांचक सेमीफाइनल में एफसी गोवा को पेनाल्टी शूटआउट में हराकर फाइनल में पहुंची मुम्बई सिटी एफसी पूरे आत्मविश्वास के साथ फाइनल में पहुंची है। मुम्बई ने लीग चरण में एटीके मोहन बागान को दो बार हराया है और मुम्बई लीग विनर्स शील्ड विजेता रही है।

मुम्बई सिटी एफसी पहली बार फाइनल में पहुंची है। कोच सर्जियो लोबेरा के मार्गदर्शन में टीम पूरे आत्मविश्वास से लबरेज नजर आ रही है।

लोबेरा ने कहा, “वे (एटीके मोहन बागान) अच्छे खिलाड़ियों के साथ एक बहुत अच्छी टीम हैं और उनके पास लय भी है। लेकिन अब सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप खुद पर ध्यान केंद्रित करें और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करें। हमारे पास कोई खास योजना नहीं है, प्रतिद्वंद्वी के बारे में केवल कुछ ही जानकारी है। हमें अपनी खेल शैली पर 100 प्रतिशत काम करने की जरूरत है।”

लोबेरा को फाइनल में मंदर राव देसाई का विकल्प तलाशना होगा। देसाई निलंबन के कारण इस मैच में नहीं खेल पाएंगे।

दूसरी तरफ, एंटोनियो हबास के मार्गदर्शन में एटीके मोहन बागान का रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है। एटीके मोहन बागान दो बार पहले ही खिताब जीत चुकी है और अब टीम के पास लगातार दूसरी बार तथा कुल तीसरी बार खिताब जीतने का मौका है।

उन्होंने कहा, “हमें मुकाबला करना है और हमारा लक्ष्य अपने विरोधियों के खिलाफ जीतना है। मेरी टीम जीतने के लिए तैयार है।”

हबास ने इस बात को खारिज कर दिया कि बीते मैचों के प्रदर्शन का प्रभाव इस मैच पर पड़ेगा। लेकिन उनका मानना है कि उन्हें एक मुश्किल चुनौती का सामना करना है।

हबास ने कहा, “हमें मैच और नियंत्रण (हमारी संभावना) की जीत का विश्लेषण करना होगा (जिस तरह से वे खेलते हैं) और उन्हें नियंत्रित करने की कोशिश करना होगा। प्रतिद्वंद्वी खेलेगा और हो सकता है, हमें मुश्किल चुनौती मिले।”

इस मैच से गोल्डन बूट और गोल्डन ग्लव्स के विजेता का भी फैसला होगा। एटीके मोहन बागान के रॉय कृष्णा और एफसी गोवा के इगोर एंगुलो 14-14 गोलों के साथ टॉप स्कोररों की लिस्ट में संयुक्त रूप से टॉप पर हैं और गोल्डन बूट के दावेदार हैं। शनिवार को एक और गोल कृष्णा को गोल्डन बूट का विजेता बना देगा, जिन्होंने एंगुलो से ज्यादा मिनट खेले हैं।

गोल्डन ग्लव्स की रेस में मुम्बई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह और एटीकेएमबी के अरिंदम भट्टाचार्य हैं। दोनों गोलकीपरों के नाम अब तक 10 क्लीन शीट है। इस समय अरिंदम टॉप पर है क्योंकि उन्होंने सबसे कम गोल खाएं हैं।

बता दें कि आईएसएल के इस सीजन में 114 मैच खेले गए है और 295 गोल हुए हैं।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *