Jagarnath Mahto gets relief from Supreme Court : झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत

Insight Online News

धनबाद। गबन के एक मामले में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को सर्वोच्च अदालत से बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने मंत्री जगरनाथ समेत अन्य की ओर से दायर की गई स्पेशल लीव अपील पर सुनवाई करते हुए शिकायतकर्ता डेगलाल महतो को नोटिस जारी करने का आदेश दिया है। वहीं सर्वोच्च अदालत ने निचली अदालत की कार्रवाई पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी है। मंत्री की ओर से वरीय अधिवक्ता बबलू पांडेय ने मंगलवार को प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी श्वेता कुमारी की अदालत में आवेदन दायर कर बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने निचली अदालत के कार्यवाई पर रोक लगा दी है। लिहाजा इसपर आगे की कार्रवाई न की जाए। झारखंड उच्च न्यायालय ने मंत्री को 27 लाख रुपए जमा करने की शर्त पर जमानत पर मुक्त करने का आदेश दिया था।

इसके आलोक में मंत्री की ओर से निचली अदालत में रुपए जमा करने की अनुमति दिए जाने का आवेदन भी दाखिल किया गया था। वहीं दूसरी ओर मंत्री ने दो अगस्त को झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई थी। याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किया है। बताते चलें कि झारखंड कॉमर्स इंटर कॉलेज डुमरी के प्रभारी प्राचार्य डेगलाल राम ने नौ फरवरी 2017 को कॉलेज के अध्यक्ष जगरनाथ महतो, फूलचंद महतो, रामेश्वर प्रसाद यादव, रवींद्र कुमार सिंह, प्रताप कुमार यादव, मोतीलाल महतो और राजेंद्र महतो के विरुद्ध कॉलेज के कोष का 27 लाख रुपए षड्यंत्र के तहत गबन करने का आरोप लगाते हुए शिकायतवाद दर्ज कराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *