Jharkhand Assembly Budget Session : 1000 कस्टम हायरिंग सेंटर खोलेगी सरकार : बादल

रांची, 18 मार्च । झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने विधानसभा बजट सत्र के दौरान गुरुवार को कहा कि सरकार 1000 कस्टम हायरिंग सेंटर खोलेगी। साथ ही 4401 ट्रैक्टर भी बांटेगी। उन्होंने यह भी कहा कि 15 कस्टम हायरिंग सेंटर पायलट प्रोजेक्ट के तहत खुलेंगे। पहले चरण में किसानों को एक हजार ट्रैक्टर दिये जायेंगे। इसी वित्तीय वर्ष में 45 एग्रीक्लिनिक को धरातल पर सरकार लाने जा रही है।

अनसूचित प्रश्नकाल के दौरान विधायक ढुल्लू महतो के उठाये गये सवाल के जवाब में मंत्री ने जानकारी दी कि कस्टमाइज्ड हायरिंग सेंटर के जरिये से किसानों को जरूरतों को पूरा किया जायेगा। सभी मशीन एवं कृषि उपकरण सस्ते दर पर उपलब्ध कराए जाएंगे। इस सेंटर के जरिये किसानों को बंगाल और ओड़िशा में जरूरत पड़ने वाले फसलों की जानकारी उपलब्ध करायी जायेगी। इसके अलावा बीज भी उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि किसानों को सभी जरूरी ट्रेनिंग भी मुहैया करायी जायेगी।

विधायक ढुल्लू महतो ने सवाल किया था कि कृषि यंत्रीकरण को प्रोत्साहित करने के लिए अनुदान पर सिर्फ अब तक झारखंड के 435 किसानों को मिनी ट्रैक्टर और 165 पावर टिलर का ही वितरण किया गया है। उन्होंने सरकार से सवाल किया कि क्या सरकार कस्टम हायरिंग सेंटर स्थापित करना चाहती है। इस पर सरकार की ओर से बताया गया कि जल्द ही विजेता ग्राम प्रोजेक्ट के तहत एक हजार कस्टमाइज सेंटर खोलने जा रही है। इसके तहत पायलट प्रोजेक्ट के तहत 15 कस्टमर सेंटर जल्द ही स्थापित किये जायेंगे।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *