Jharkhand Congress Update : कांग्रेस राहत निगरानी समिति ने पहुंचाई मेडिकल मदद

Insight Online News

रांची, 22 अप्रैल : झारखंड कांग्रेस की ओर से गठित कोविड-19 राहत निगरानी समिति ने गुरुवार को रांची सहित राज्य के विभिन्न जिलों के कोरोना संक्रमित मरीजों व उनके परिजनों को मेडिकल मदद पहुंचाई गई है।

रांची के प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में स्थित कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन के माध्यम से गुरुवार को रांची, कोडरमा, हजारीबाग और रामगढ़ सहित विभिन्न जिलों के लोगों को हेल्पलाइन के माध्यम से सहायता पहुंचाने का काम किया। इस मौके पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव के नेतृत्व में कांग्रेस भवन में स्थापित कंट्रोल रूम के संयोजक प्रदीप तुलस्यान, स्वास्थ्य विभाग के चेयरमैन पी नैय्यर और उनकी टीम के सदस्यों के अलावा कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोर नाथ शाहदेव, अमूल्य नीरज खलखो उपस्थित थे। रामेश्वर उरांव ने इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मौजूदा वैश्विक महामारी के समय पार्टी कार्यकर्त्ताओं की ओर से मानव सेवा का काम किया जा रहा है।

कांग्रेस की अंतरिम सोनिया गांधी के निर्देश पर राज्यस्तरीय कंट्रोल रूम ने काम करना शुरू कर दिया है और अब जल्द ही सभी जिलों में भी कंट्रोल रूम काम करना शुरू कर देगा। पिछली बार लॉकडाउन के समय की परिस्थितियां अलग थी। इस बार की परिस्थितियां अलग है। उन्होंने बताया कि आज 56 से अधिक लोगों को रांची स्थित कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन के माध्यम से आवश्यक सहायता उपलब्ध करायी गयी। उन्होंने कहा कि पार्टी ने हर गरीबों के आंसू को पोछने का संकल्प लिया है और राज्य सरकार भी लोगों को मदद पहुंचाने के लिए निरंतर कार्यरत है।

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य सचिव केके सोन के भी कोरोना पॉजिटिव हो जाने के बाद थोड़ी मुश्किल हुई है, लेकिन विभाग की ओर से लोगों को अपनी ओर से हरसंभव सहायता उपलब्ध करायी जा रही है। कुछ स्थानों से इंजेक्शन ,आक्सीजन और दवाईयों की कालाबाजारी की शिकायत मिल रही है, उनका आग्रह होगा कि विपत्ति को संपत्ति बनाने का जरिया ना बनाये। उरांव ने लोगों से यह भी अपील की कि स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का कड़ाई से पालन करें, लोगों की मदद से ही कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ा जा सकता है। पार्टी भी राज्यवासियों से यह अपील करती है कि लोग टीका अवश्य लें। पार्टी कार्यकर्त्ताओं का भी यह दायित्व है कि टीकाकरण में सभी को आवश्यक सहयोग करें। प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने बताया कि प्रदेश स्तरीय राहत एवं निगरानी समिति के कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन के नंबर से जिन लोगों ने मदद मांगी, उनमें रांची की 63 वर्षीय अल्बीन तिर्की, 42 वर्षीय रवींद्र यादव को सदर अस्पताल में भर्ती कराने में मदद किया गया। कोडरमा के गंगा यादव रांची के किसी अस्पताल में भर्ती होना चाहते है। उन्हें भर्ती कराने की कोशिश की जा रही है। छोटू सिंह ने कोविड जांच में सहयोग मांगा। हजारीबाग जिले के विष्णुगढ़ के उपेंद्र नाथ मिश्र भी कोरोना पॉजिटिव है और वे रांची में भर्ती होना चाहते है। शीला देवी, लालू उरांव, भूषण लकड़ा, आनंद उरांव, गौरव महतो और दाउद होरो समेत अन्य ने भी कोरोना संक्रमण से लड़ाई में सहयोग का आग्रह किया गया। वहीं कोडरमा की मीना देवी को सदर अस्पताल में भेजा गया । रांची के चंचल चटर्जी एवं उनकी पुत्री रुहाना चटर्जी को मेदांता में भर्ती कराया गया।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *