Jharkhand Congress Update : कांग्रेस वैक्सीनेशन कमेटी ने कोरोना टीकाकरण कार्य का लिया जायजा

Insight Online News

रांची, 30 अप्रैल : प्रदेश कांग्रेस वैक्सीनेशन कमेटी के चेयरमैन और कृषिमंत्री बादल पत्रलेख ने शुक्रवार को विधानसभा में चल रहे कोरोना टीकाकरण कार्य का जायजा लिया।

इस मौके पर प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, उनकी पत्नी सोनम दूबे, प्रवक्ता राजेश गुप्ता, अमूल्य नीरज खलखो और समन्वय समिति के सदस्य सतीश पॉल मंजूली ने कोविड-19 टीका लेकर राज्य के सभी नागरिकों से बिना झिझक टीका लेने की अपील की।

इस मोके पर कृषिमंत्री बादल ने प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव द्वारा वैक्सीनेशन कमेटी का चेयरमैन बनाये जाने पर आभार व्यक्त किया। साथ ही टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए व्यापक जनजागरण चलाने की बात कही।

निरीक्षण के क्रम में विधानसभा में कार्यरत एएनएम सुनीता कुमारी और सुमन टोप्पो ने बताया कि वे सभी वर्ष 2007 से काम कर रही है, लेकिन अब तक उनकी सेवा का स्थायीकरण नहीं किया गया है। वैश्विक महामारी के समय राज्य सरकार को इस संबंध में आवश्यक निर्णय करना चाहिए। वहीं, स्वास्थ्य कर्मियों ने यह भी मांग की कि राज्य सरकार ने कोरोना काल में 13 महीने का वेतन और मानदेय देने का निर्णय किया है। देश के कई राज्यों में इसे लागू भी कर दिया गया है, लेकिन झारखंड में इसका लाभ अब तक उन्हें नहीं मिल पाया है। इस दिशा में भी सरकार को कारगर कदम उठाना चाहिए।

आलोक कुमार दूबे ने कहा कि दुनिया के कई देशों ने तेजी से वैक्सीनेशन के कार्य को पूरा कर कोरोना संक्रमण पर काफी हद तक काबू पाने में सफलता हासिल की है। राज्यवासियों को भी बिना झिझक कोरोना टीका लेना चाहिए और इससे स्थिति बेहतर हो सकेगी। राजेश गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार ने 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए भी टीकाकरण की घोषणा कर दी है लेकिन पर्याप्त तैयारी किये बिना यह निर्णय किया गया और आज वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों ने झारखंड सहित विभिन्न राज्यों को टीका उपलब्ध कराने में असमर्थता जतायी है। इस स्थिति से निपटने के लिए केंद्र सरकार को तुरंत ध्यान देना चाहिए।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *