Jharkhand Ex -CM Raghuvar Das : हेमंत सरकार के लिए आदिवासी केवल वोट पाने का साधन

Insight Online News

रांची, 30 अगस्त (वार्ता) झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने आज कहा कि आदिवासियों के नाम पर राजनीति करने वाली राज्य की हेमंत सोरेन सरकार के लिए आदिवासी हित का दिखावा केवल वोट पाने का साधन है।

श्री दास ने सोमवार को यहां कहा कि चाहे संथाल हूल के महानायक सिद्धो-कान्हू के वंशज रामेश्वर मुर्मू की हत्या का मामला हो या रूपा तिर्की की संदेहास्पद मौत का मामला। दोनों मामले ने हेमंत सोरेन सरकार के आदिवासी हितैषी होने की पोल खोल कर रख दी है। हेमंत सरकार द्वारा रामेश्वर मुर्मू की हत्या की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने के लिए अनुशंसा करने का दावा पिछले वर्ष सितंबर में ही किया था। लेकिन जांच का आदेश आज तक फाइल से बाहर नहीं निकल सका है।

भाजपा ने कहा कि इसी तरह रूपा तिर्की की मौत का सच हेमंत सरकार सामने लाना नहीं चाहती है। रूपा के परिजनों द्वारा सीबीआई की जांच की मांग को लेकर उच्च न्यायालय में मामला दायर किया गया है। सीबीआई जांच से बचने के लिए हेमंत सोरेन सरकार देश के नामी-गिरामी वकीलों की फौज खड़ी कर रही है।

जानकारी के अनुसार, देश के सबसे महंगे वकीलों में से एक, जो सत्ताधारी दल से जुड़े हुए भी है, उन्हें सीबीआई जांच का विरोध करने के लिए लाने का निर्णय लिया गया है। यह बहुत ही दुखद स्थिति है। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि आखिर हेमंत सोरेन सरकार इस मामले में सीबीआई जांच से क्यों डर रही है और किसे बचाना चाहती है। यह कैसी आदिवासी हितैषी सरकार है

विनय सतीश, वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *