Jharkhand Finance Minister : कोरोना से निपटने के लिए झारखंड को मिले 227 करोड़ नाकाफी, रामेश्वर उरांव

Insight Online News

रांची, 01 मई : कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए केंद्र सरकार की ओर से विभिन्न राज्यों को करीब 8000 करोड़ रुपये जारी किये गये हैं। इसमें झारखंड को भी लगभग 227 करोड़ मिले हैं, जो नाकाफी है।

रामेश्वर शनिवार को कंट्रोल रुम कांग्रेस भवन रांची में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उरांव ने कहा कि उच्चतम न्यायालय और हाईकोर्ट की ओर से भी कोरोना संक्रमण को लेकर केंद्र सरकार के रवैये पर लगातार कई टिप्पणियां की जा रही है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा है कि वह खुद कोरोना वैक्सीन खरीद कर राज्य सरकारों को क्यों नहीं उपलब्ध करा रही है। कम से कम अदालत के आदेश के बाद तो सरकार को सजग होना चाहिए। झारखंड सहित अन्य राज्यों को कोविड वैक्सीन उपलब्ध कराना चाहिए। उन्होंने बताया कि आज से देशभर में 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए भी टीकाकरण शुरू होना था, लेकिन झारखंड में नहीं शुरू हो पाया। क्योंकि टीका बनाने वाली कंपनियों ने 15 मई के पहले टीका उपलब्ध कराने में असमर्थता जतायी है।

वित्तमंत्री ने कहा कि झारखंड सरकार की ओर से वैक्सीन के लिए कंपनियों के राशि भी उपलब्ध करा दी गयी है। इसके बावजूद वैक्सीन नहीं मिल पाने के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है। जबकि केन्द्र सरकार को चाहिए था कि पूरे देश में फ्री वैक्सीन देना सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों को प्रोडक्शन बढ़ाना चाहिए। भाजपा नेताओं को भी चाहिए कि वह केंद्र सरकार और इन कंपनियों की तरफदारी छोड़की जनता की आवाज को उठाये।

प्रदेश कांग्रेस की ओर से शनिवार को 11वें दिन भी कंट्रोल रूम के माध्यम से राहत निगरानी समिति ने आम नागरिकों को मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में कारगर प्रयास किए। आज भी कई लोगों ने कंट्रोल रूम में फोन कर सहायता की मांग की। मौके पर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव, डा पी नैयर मौजूद थे।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *