HindiJharkhand NewsNewsPolitics

Jharkhand : संध्या टोपनो हत्याकांड की न्यायिक या सीबीआई जांच करायी जाए : बाबूलाल मरांडी

रांची, 25 जुलाई । भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने दारोगा संध्या टोपनो हत्याकांड की राज्य सरकार से न्यायिक या सीबीआई जांच कराने की मांग की है। उन्होंने तुपुदाना में पदस्थापित महिला दारोगा संध्या टोपनो की हत्या को एक बड़े षडयंत्र का हिस्सा बताया है।

मरांडी ने सोमवार को प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अखबारों और विभिन्न माध्यमों से जो जानकारी मिली है यह इसी ओर इशारा करती है। पहले रूपा तिर्की और अब संध्या टोपनो जैसी तेज-तर्रार अफसर को कुचल कर मार दिया गया। मरांडी ने कहा कि वे संध्या के परिजनों से मिले हैं। परिजनों ने बताया है कि ओपी प्रभारी कन्हैया सिंह का बर्ताव पहले से ही संध्या के प्रति ठीक नहीं रहा था। कन्हैया सिंह जबरदस्ती उनकी ड्यूटी लगाते थे। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी वारदात के बाद भी कन्हैया सिंह को केवल लाइन हाजिर किया गया, सस्पेंड तक नहीं किया गया, लाइन हाजिर करना कोई सजा नहीं है। पहले भी गौ तस्करी के मामले में कन्हैया सिंह की भूमिका संदिग्ध रही है। उन पर आरोपितों को छोड़ने का आरोप है।

मरांडी ने आरोप लगाते हुए कहा कि संध्या के प्रति कन्हैया सिंह का बर्ताव उसे जान-बूझकर मौत के मुंह में धकेलने जैसा ही था। उन्होंने कहा कि सोचने का विषय है कि जब कई थाना क्षेत्र से बैरिकेडिंग को तोड़कर और पुलिस को चकमा देकर अपराधी भागे आ रहे थे तो फिर उस स्थिति में एक महिला दारोगा को केवल तीन पुलिसकर्मियों के साथ रात में चेकिंग में लगाना अपने आप में संदेहास्पद है, जबकि तुपुदाना ओपी में 8-10 और पुलिसवाले मौजूद थे। उन्होंने कहा कि ओडिशा से सिमडेगा के रास्ते गौ तस्कर तस्करी करते हैं। सबसे पहले बांसजोरा चेकपोस्ट पड़ता है, अब हर रोज यहां से तस्कर बच निकलते हैं। अब ये कैसे विश्वास किया जाए कि यहां की पुलिस को कुछ पता ही नहीं। यह तो सरासर मामले में संलिप्तता को दर्शाता है।

मरांडी ने कहा कि अब कन्हैया सिंह को हटाकर जिस मीरा सिंह को पदस्थापित किया गया है वह खुद दागी हैं। ये वहीं मीरा सिंह हैं जिसे खूंटी महिला थाने में एसीबी ने आदिवासी महिला से घूस लेते हुए पकड़ा था। जाहिर है सरकार की मंशा ही भ्रष्ट अधिकारियों के पदस्थापन से आरोपितों को बचाने की है। मरांडी ने कहा कि सर्वप्रथम कन्हैया सिंह को निलंबित किया जाए, करप्शन में रंगे हाथ पकड़े जाने, जेल जाने वाले चार्जशीटेड दारोगा मीरा सिंह को तुरंत तुपुदाना ओपी से हटाया जाए और इस पूरे मामले की या तो सीबीआई या न्यायिक जांच कराई जाए।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *