Jharkhand Lockdown Update : झारखण्ड में (31) मई नहीं अब 13 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, पूर्ब की घोषणा में बदलाव

Insight Online News

Ranchi: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच झारखंड सरकार ने आंशिक लॉकडाउन (स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह) की अवधि को एक बार फिर 1 सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया है. राज्य में अब आंशिक लॉकडाउन 13 मई सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा. वहीं पूर्व के आदेश में जारी पाबंदियों को यथावत रखा गया है. इससे पहले स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के नाम से लगा आंशिक लॉकडाउन 6 मई सुबह 6 बजे तक लागू है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया है. बैठक में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता,मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, सीएम के प्रधान सचिव राजीव अरूण एक्का, नगर विकास सचिव विनय चौबे उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य में अभी भी संक्रमण की गंभीर स्थिति है. जिसे देखते हुए पूर्व में जारी आंशिक लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया है. सीएम ने राज्यवासियों से अपील की है कि वे इस लॉकडाउन का पालन सख्ती से करें.

बता दें कि आंशिक लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने से ठीक पहले मुख्यमंत्री ने राजधानी रांची का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया. शहर भ्रमण के बाद उच्चस्तरीय बैठक कर मुख्यमंत्री ने आंशिक लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला किया है.

आंशिक लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने के साथ राज्य सरकार ने बुधवार को प्रवासी मजदूरों के लिए बड़ा फैसला लिया है.अन्य राज्यों में लगे लॉकडाउन के बाद झारखंड लौटने वाले प्रवासी मजदूरों को घर जाने से पहले कोविड टेस्ट (रैपिड एंटीजन टेस्ट) कराना अनिवार्य होगा.टेस्ट में अगर रिपोर्ट निगेटिव भी आता है,तो भी इन मजदूरों को 7 दिनों के क्वारंटाइन में रहना होगा. उसके बाद मजदूरों को फिर से जांच करानी होगी. अगर जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आती है,तो मजदूरों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा.

बताते चलें कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में राज्य सरकार ने एक हफ्ते के लिए ही आंशिक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया था. इसे स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह नाम दिया गया था. यह 29 अप्रैल सुबह 6 बजे तक लागू था. इस दौरान संक्रमण की बढ़ती रफ्तार में कमी नहीं देखी गयी. ऐसे में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाकर 6 मई सुबह 6 बजे तक कर दिया गया. दूसरे चरण में पूर्व की पाबंदियों में काफी सख्ती बरती गयी थीं,जिसे यथावत रखा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *