Jharkhand : झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 18 से

रांची, 17 सितम्बर ।  झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 18 सितंबर से शुरू हो रहा है और 22 सितंबर तक चलेगा। इस इस दौरान सदन की केवल 3 बैठकें होंगी। सत्र के हंगामेदार होने की संभावना है। सदन में सरकार को घेरने के लिए विपक्ष की ओर से सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है। वहीं सत्तापक्ष की ओर से भी विपक्ष के हर सवाल का जवाब तार्किक तरीके से देने की तैयार की गयी है।  सत्र में चालू वित्तीय वर्ष का प्रथम अनुपूरक बजट पेश के अलावा कई विधेयकों को पेश किये जाने की तैयारी है। मॉनसून सत्र के दौरान बीजेपी-आजसू पार्टी ने राज्य को लैंड म्यूटेशन बिल, बढ़ते अपराध, बेरोजगारी और प्रवासी श्रमिक की दशा तथा कोरोना संक्रमण के बढ़़ते मामले के बीच स्वास्थ्य सुविधाओं में बढ़ोत्तरी के मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी में है। वहीं सरकार की ओर से  सत्र में प्रथम अनुपूरक बजट के अलावा पांच विधायकों को भी पेश करने की तैयारी की गयी है, जिसमें झारखंड लैंड म्यूटेशन, दंड प्रक्रिया संहिता, झारखंड मिनल वेयरिंग सेस, झारखंड मोटर वाहन करारोपण और राजकोषीय उत्तरदायित्व एवं बजट प्रबंधन विधेयक शामिल है।  कोविड-19 संक्रमण को लेकर पिछले 23 मार्च को विधानसभा का बजट सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित किया गया था। इसके बाद में बजट सत्र का सत्रावसान भी कर दिया गया। इस बाद 18 से 22 सितंबर तक आहूत मॉनसून सत्र को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। सत्र के पहले दिन वित्तीय वर्ष 2020-21 का प्रथम अनुपूरक बजट पेश होगा। इसके बाद 19 और 20 सितंबर को अवकाश है। 21 एवं 22 सितंबर को प्रश्नकाल भी चलेगा। 21 सितंबर को प्रथम अनुपूरक पर चर्चा और मतदान होगा । इसके अलावा तत् संबंधी विनियोग विधेयक पारित किया जाएगा जबकि 22 सितंबर को गैर सरकारी संकल्प लिया जाएगा।

( हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *