Jharkhand News : सरना धर्म कोड को लागू करने की मांग को लेकर चक्का जाम

रांची, 15 अक्टूबर । जनगणना में अलग सरना धर्म कोड लागू करने की मांग को लेकर केंद्रीय सरना समिति और अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद समेत अन्य संगठनों के आह्वान पर गुरुवार को रांची समेत राज्य के कई हिस्सों में विभिन्न संगठनों के कार्यकर्त्ता सड़क पर उतरे और विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि बंद  से आवश्यक सेवाएं जैसे प्रेस, एंबुलेंस और दूध सेवा मुक्त रखा गया है।

सरना धर्म कोड की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्त्ताओं ने रांची के कोकर समेत अन्य इलाकों में सड़क जाम कर प्रदर्शन किया। इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस ने सड़क जाम कर रहे कार्यकर्त्ताओं को समझाने का प्रयास किया। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल थी। चक्का जाम के बावजूद एंबुलंस को जाने का रास्ता दिया जा रहा है।

इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत में सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की ने कहा कि राज्य सरकार ने मॉनसून सत्र में सरना धर्म कोड बिल का जिक्र तक नहीं किया है। इस मुद्दे पर वर्तमान सरकार और विपक्षी दलों का रवैया नकारात्मक रहा है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार चाहती तो विशेष सत्र बुलाकर बिल पारित कर सकती थी लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया। तिर्की ने कहा कि धर्म कोड की मांग को लेकर आंदोलन जारी रहेगा।

इधर, चक्का जाम के मद्देनजर पुलिस मुख्यालय की ओर से सभी एहतियाती कदम उठाए गए हैं। सभी प्रमुख चौक-चौराहे पर दंडाधिकारियों के नेतृत्व में सुरक्षा बलों की तैनाती की गयी है। इससे पहले चक्का जाम को सफल बनाने के लिए बुधवार देर शाम सरना समिति और आदिवासी विकास परिषद समेत कुछ अन्य संगठनों की ओर से रांची के अल्बर्ट एक्का चौक के समीप मशाल जुलूस निकाला गया।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *