Jharkhand News : झामुमो उम्मीदवार बसंत सोरेन का नामांकन रद्द करे चुनाव आयोग – भाजपा

रांची, 28 अक्टूबर। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर आचार संहिता, अनुच्छेद 14 के उलंघन व दुमका उम्मीदवार बसंत सोरेन की पत्नी पर आयकर अधिनियम का उलंघन मामले में भाजपा ने  मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के समक्ष शिकायत दर्ज करवाया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के नाम पर सौंपे गए शिकायत पत्र के माध्यम से चुनाव आयोग सम्पर्क विभाग के प्रदेश सह संयोजक सुधीर श्रीवास्तव ने बुधवार को कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 27 अक्टुबर 2020 को दुमका  उपचुनाव में अपने भाई बसंत सोरेन के प्रचार के दौरान खुलेआम कहा कि चुनाव के बाद भाजपाइयों को लाठी-डंडे से खदेड़ेंगे। एक राज्य के मुख्यमंत्री के इस तरह के बयान से न सिर्फ भाजपा कार्यकर्ता बल्कि आम जनता भी भयभीत है। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 14 ने समानता के अधिकार दिया है।

मुख्यमंत्री ने जिस प्रकार के शब्दों का प्रयोग किया है वह न सिर्फ आपत्तिजनक है बल्कि खुल्लम- खुल्ला आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन के साथ- साथ भारतीय संविधान का अपमान भी है। एक संवैधानिक पद पर रहते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शायद पूरे राज्य के नहीं बल्कि केवल झामुमो कार्यकर्ताओं के मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री पद की गरिमा को तार तार कर दिया है। उनका यह बयान एक गृह युद्ध की पृष्ठभूमि तैयार कर रहा है, जिसका मुख्य कारण स्वयं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन होंगे। उन्होंने निर्वाचन पदाधिकारी से मांग किया है कि हेमंत सोरेन के खिलाफ न सिर्फ चुनाव आचार संहिता का मामला दर्ज करने के लिए आदेश दिया जाए, बल्कि उनको पुरे चुनाव परिणाम तक दुमका एवं बेरमो क्षेत्र में प्रचार के लिये जाने से प्रतिबंधित किया जाए। साथ ही उन्होंने दुमका विधानसभा उपचुनाव उम्मीदवार बसंत सोरेन  द्वारा नामांकन प्रति के आधार पर उनकी पत्नी पर दो दो पैन कार्ड रखने का भी आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि दो पैन कार्ड रखना आयकर अधिनियम 1961 की धारा 139 ए का उलंघन है। यह आयकर अधिनियम के तहत एक अपराध है। इस मामले में निर्वाचन पदाधिकारी से उम्मीदवार बसंत सोरेन का नामांकन तत्काल प्रभाव से रद्द करने की मांग की है। साथ ही आयकर अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है। दोनों मामले में सह संयोजक सुधीर श्रीवास्तव ने मुख्य चुनाव आयुक्त, नई दिल्ली, वित्त मंत्रालय, भारत सरकार, मुख्य आयकर आयुक्त, रांची, आब्जर्बर, दुमका  उपायुक्त दुमका और निर्वाची पदाधिकारी, दुमका को भी शिकायत की एक प्रतिलिपि ऑनलाइन प्रेषित किया है।

(हि. स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *