Jharkhand News : जामताड़ा नाव हादसे में एनडीआरएफ को 40 घंटे बाद मिली सफलता, एक महिला का शव मिला

जामताड़ा, 26 फरवरी । झारखंड के जामताड़ा जिले के बराकर नदी में नाव हादसे के लगभग 40 घंटे बाद शनिवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की टीम को सफलता मिली है। नदी से एक महिला का शव मिला है।

महिला की पहचान श्यामपुर निवासी रशीद अंसारी की पत्नी सालेहा खातून के रूप में की गई है। टीम ने सर्च ऑपरेशन में हादसे की शिकार हुई नाव भी बरामद कर ली है। इसके अलावा कुछ लोगों की चप्पलें, बैग, नौ बाइक और दो साइकिलें मिली हैं।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार की शाम बारिश और तेज हवा की वजह से धनबाद के निरसा से जामताड़ा की ओर लौट रही नाव नदी में डूब गई थी। दुर्घटना के बाद से ही एनडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू अभियान शुरू कर दिया। इसमें स्थानीय गोताखोर भी सहयोग करने में जुट गए है। जिला प्रशासन की ओर से हर संभव प्रयास किया जा रहा है। बचाव कार्य और लापता लोगों को ढूंढने के लिए लगभग चार किलोमीटर रेडियस में मैपिंग कर अलग अलग टीम को लगाया गया है।

पिछले दो दिन से सुबह होते ही लापता लोगों के परिजन, स्थानीय ग्रामीण, जामताड़ा शहरी क्षेत्र से भी काफी संख्या में लोग नदी घाट पहुंचने लगे रहे हैं । इस दौरान प्रशासन एवं पुलिस को भीड़ नियंत्रित करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं बचाव कार्य को सफलता मिलने में विलंब होने पर प्रशासन और पुलिस को स्थानीय लोगों के आक्रोश का भी बीच-बीच में सामना करना पड़ रहा है।

अब तक बरबेंदिया- वीरगांव नदी घाट के बीच हुए हादसे में डूबने वाले लोगों की वास्तविक संख्या का पता नहीं चल रहा है। प्रशासन कह रहा है कि हादसे के वक्त नाव में करीब 16 लोग सवार थे। इसमें से पांच लोगों के बारे में जानकारी मिल गई है। चार लोग जिंदा बचे हैं। घटनास्थल पर जामताड़ा विधायक डॉक्टर इरफान अंसारी, एसडीपीओ आनंद ज्योति मिंज, एसडीओ संजय पांडे, जामताड़ा थाना प्रभारी सहित कई लोग मौजूद है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.