Jharkhand news : सोरेन परिवार को संताल परगना से बाहर चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं : बाबूलाल मरांडी

दुमका। झारखंड भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने राज्य में सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) पर जमकर निशाना साधा और कहा कि सोरेन परिवार को संताल परगना से बाहर चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं है।

श्री मरांडी ने मंगलवार को झामुमो पर जमकर निशाना साधते हुए कार्यकताओं से झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन और उनके परिवार को संताल परगना की राजनीति से बाहर करने का आह्वान किया तथा कहा कि श्री शिबू सोरेन और उनके परिवार के किसी भी सदस्य को संताल परगना से बाहर चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं है। यह दावा पूरी तरह खोखला है कि झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन परिवार को हराया नहीं जा सकता है लेकिन उनके नेताओं को यह स्मरण होना चाहिए कि दुमका समेत कई अन्य क्षेत्र की जनता ने एक बार नहीं कई बार इस परिवार को हराया है।

भाजपा नेता ने कहा कि वर्ष 1998 में दुमका संसदीय क्षेत्र की जनता ने झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन को, 2005 में सुनील सोरेन ने शिबू सोरेन के पुत्र को, 2014 में भाजपा की लुईस मरांडी तत्कालीन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को परास्त कर चुकी हैं। इसलिए, दुमका समेत संताल परगना झामुमो का अभेद्य दुर्ग नहीं है।

श्री मरांडी ने कहा कि श्री शिबू सोरेन को भी मुख्यमंत्री की कुर्सी पर आसीन रहते हुए तमाड़ की जनता विधानसभा के चुनाव में पराजित कर चुकी है। उन्होंने कहा कि शिबू सोरेन परिवार संथाल परगना को सुरक्षित समझते हैं। उन्होंने कहा कि झामुमो के लोग यह समझते हैं हम जैसा भी करें यहां की जनता उनके परिवार को ही वोट देगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से दुमका को अपना अभेद्य दुर्ग समझने वालों को अपनी ताकत दिखाने और जनता को जागरूक करने का आह्वान किया।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *