Jharkhand News Update : गिरिडीह से 50 हजार के इनामी नक्सली को एनआईए ने किया गिरफ्तार

रांची, 24 अप्रैल । राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 50 हजार के इनामी नक्सली सिंघराय सोरेन को गिरफ्तार किया है। एनआईए सूत्रों ने शनिवार को बताया कि सिंघराय सोरेन की गिरफ्तारी गिरिडीह जिले के अकबकीटांड गांव से हुई है। एनआईए ने बीते 5 मार्च 2018 को गिरिडीह के डुमरी थाना क्षेत्र के अकबकीटांड गांव में भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद के साथ 15 माओवादियों के गिरफ्तार होने के मामले में सिंघराय सोरेन को गिरफ्तार किया है। सिंघराय सोरेन गिरिडीह के डुमरी थाना क्षेत्र के अकबकीटांड़ गांव का रहने वाला था।

इस मामले में लंबे समय से एनआईए को उसकी तलाश थी। एनआईए ने उसके ऊपर 50 हजार इनाम घोषित किया था। एनआईए को सूचना मिली थी कि नक्सली सिंघराय सोरेन अकबकीटांड़ गांव में छिपा है। जब एनआईए और पुलिस की टीम छापेमारी करने पहुंची तब पुलिस को देखकर वह जंगल को ओर भागने लगा। पुलिस ने उसका पीछा किया और उसे पकड़ लिया। उल्लेखनीय है कि नक्सल विरोधी अभियान में गिरिडीह के तत्कालीन एसपी सुरेंद्र कुमार झा के नेतृत्व में पुलिस, सीआरपीएफ और झारखंड जगुआर ने संयुक्त रूप से चलाए गए अभियान के दौरान बीते 5 मार्च 2018 को पुलिस ने नक्सलियों को हथियार के साथ गिरफ्तार किया था। नक्सलियों के पास से 12 हथियार, कारतूस और आरडीएक्स-हैंडग्रेनेडस बरामद किये गये थे।

वहीं पुलिस ने 300 आधार कार्ड भी बरामद किया थे। इस मामले में 6 मार्च 2018 को गिरिडीह के डुमरी थाना में कांड संख्या 26/2018 दर्ज हुआ था। मामले को एनआईए ने 9 मई 2018 को टेकओवर करते हुए कांड संख्या आरसी 19/2018 दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू की थी। इस मामले में एनआईए ने 31अगस्त 2018 सिंघराय सोरेन समेत दस नक्सलियों के खिलाफ चार्जशीट दायर किया था, जिसके बाद एनआईए ने आठ जनवरी 2019 को सात नक्सलियों के खिलाफ़ सप्लीमेंट्री चार्जशीट दायर किया था।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *