Jharkhand : नदियों के संरक्षण को लेकर बेहद संवेदनशील हैं झारखंड के लोग

Insight Online News

रांची, 02 जून : केन्द्र सरकार के जल शक्ति मंत्रालय अंतर्गत राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन की ओर से ऑनलाइन आयोजित गंगा क्वेस्ट 2021 में झारखंड के युवाओं ने परचम लहराया है। साथ ही यह साबित कर दिया है कि झारखंड को यदि प्रकृति नें खूब संवारा है तो यहां के लोग भी प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण को लेकर बेहद सजग हैं।

इस वर्ष सात अप्रैल से 30 मई के बीच आयोजित इस ऑनलाईन प्रतियोगिता में जहां विश्व के 113 से ज्यादा देशों से कुल 11 लाख से भी ज्यादा प्रतिभागियों ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। वहीं केवल झारखंड से 1,10,111 प्रतिभागी गंगा क्वेस्ट में शामिल हुए और गंगा नदी पर आधारित सवालों का बखूबी जवाब दिया । अब मंत्रालय विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर लाइव क्विज का आयोजन कर रहा है जिसके लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर 216 प्रतिभागी अंतिम चरण में चयनित किए गए हैं।

खास बात यह है कि इन 216 प्रतिभागीयों में भी झारखंड से 28 प्रतिभागी अपनी जगह बनाए हुए है। इन सभी प्रतिभागियों के लिए पुरस्कार की घोषणा 22 जून को की जाएगी। अंतिम रूप से सफल इन 28 प्रतिभागियों को सम्मानित तो किया जाएगा ही। अगर विश्व पर्यावरण दिवस पर आयोजित होने वाले लाइव क्विज कंटेस्ट में प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करते हैं तो उन्हें अतिरिक्त पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।
दरअसल केन्द्र सरकार का जल शक्ति मंत्रालय जल संसाधन को समृद्ध करने, नदियों के विकास और गंगा नदी के संरक्षण की दिशा में कई महत्वपूर्ण कार्यक्रम चला रहा है।

इसी क्रम में नमामि गंगे योजना के तहत पिछले तीन वर्षों से गंगा क्वेस्ट का आयोजन भी किया जा रहा है। इन आयोजनों के माध्यम से सरकार अधिक से अधिक लोगों को नदियों, प्राकृतिक संसाधनों और पर्यावरण के संरक्षण तथा मनुष्य के जीवन में इन प्राकृतिक संसाधनों की अहमियत से रूबरू कराना चाहती है। प्रतियोगिता में झारखंड द्वारा इतनी बड़ी संख्या में भागीदारी पर विभाग के सचिव विनय कुमार चौबे ने राज्यवासियों सहित अन्य को इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए बधाई दी है।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES