Jharkhand : रामेश्वर उरांव ने किसान बचाओ खेत बचाव कार्यक्रम के संबंध में जानकारी ली

रांची, 30 सितम्बर (हि. स.)।झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष  रामेश्वर उंराव ने पार्टी कार्यालय में दो अक्टूबर को होनेवाले किसान बचाओ खेत बचाव कार्यक्रम के संबंध में जानकारी ली। साथ ही साथ निर्देश दिया कि किसानों की सहभागिता कार्यक्रम में ज़्यादा से ज़्यादा हो। उन्होंने बुधवार को कहा कि किसानों की ज़मीन को कांट्रेक्ट फ़ॉर्ममिंग के माध्यम से पूंजीपतियों के हाथ में देने का प्रयास किया जा रहा है जिसे कांग्रेस क़तई बर्दाश्त नहीं करेगी।केंद्र की भाजपा सरकार लगातार अर्ध सरकारी कंपनियों को बेचने का काम कर ही रही थी और अब किसानों की ज़मीन को गिरवी रखने के लिए मजबूर करने पर आमादा है। उरांव ने कहा कि दो अक्टूबर के बाद हस्ताक्षर अभियान चलाकर पूरे प्रदेश किसानों के दर्द को राष्ट्रीय नेतृत्व तक पहुंचाकर केंद्र सरकार को कृषि क़ानून 2020 में संशोधन के लिए मजबूर करना है।बैठक में बेरमो उप चुनाव को लेकर भी चर्चा हुई, जिसमें उन्होंने सभी लोगों को चुनावों की तैयारी में जुट जाने को कहा। साथ ही साथ निर्देश दिया कि वरिष्ठ लोगों की सूची बनाकर उप चुनाव में पंचायत लेवल तक पर्यवेक्षक भेजे जाएं। उन्होंने कार्यकारी अध्यक्ष  केशव महतो कमलेश को निर्देश दिया कि तीन अक्तूबर  तक बोकारो जिला अध्यक्ष से बेरमो उप चुनाव के उम्मीदवारों के आवेदन मंगा लिया जाए ताकि उसे पाँच अक्तूबर  तक केंद्रीय नेतृत्व के पास भेजा जा सके।बैठक में उपस्थित कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि किसानों के हक़ की लड़ाई को लंबे समय तक लड़ना है। साथ ही साथ किसानों के कर्ज़ माफ़ी का भी काम शुरू हो गया है। जल्द  ही किसानों  की कर्ज़ माफ़ी कर दी जाएगी। बैठक में 10 अक्तूबर  को होने वाले किसान सम्मेलन कराने  की ज़िम्मेदारी कार्यकारी अध्यक्ष मानस सिन्हा  एवं हस्ताक्षर अभियान की ज़िम्मेदारी संजय लाल पासवान को दी गई है।

( हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *