Jharkhand : कांग्रेस के निलंबित तीनों विधायकों को फिर से जारी होगा कारण बताओ नोटिस

रांची , 23 अगस्त। प्रदेश कांग्रेस फिर से अपनी ही पार्टी के तीन निलंबित विधायकों इरफान अंसारी, विक्सल कोंगाडी और राजेश कच्छप को कारण बताओ नोटिस जारी करेगा। मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस भवन में नवगठित प्रदेश अनुशासन समिति की प्रथम बैठक में इस पर फैसला लिया गया। बैठक में पूर्व में अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के निर्देश पर प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष राजेश ठाकुर द्वारा तीनों विधायकों को पार्टी से निलंबित करने का जो निर्णय लिया गया था, उस पर अनुशासन समिति ने सहमति जतायी।

उन्होंने कहा कि निलंबित विधायक को पूर्व में कारण बताओ नोटिस जारी कर सात दिनों के अंदर जवाब देने का निर्देश दिया गया था। पर विधायक सोमवार को ही हिरासत से बाहर आये हैं। इसलिए अनुशासन समिति द्वारा पुनः तीनों विधायक को कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्णय लिया गया है। कारण बताओ नोटिस में यह स्पष्ट निर्देश होगा कि इसका जवाब पत्र/सूचना प्राप्त होने के सात दिनों के अंदर ईमेल, वाट्सएप्प, कोरियर के द्वारा अपना स्पष्टीकरण भेज सकते हैं। स्पष्टीकरण आने के उपरांत आगे की कार्रवाई पर विचार किया जाएगा। बैठक में अनुशासन समिति के अध्यक्ष ब्रजेंद्र प्रसाद सिंह के अलावा अनादि ब्रह्म, केशव महतो कमलेश, कालीचरण मुंडा, शमशेर आलम, अमूल्य नीरज खलखो भी शामिल थे।

बैठक में सर्वप्रथम अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की अध्यक्षा सोनिया गांधी के अलावा राहुल गांधी, अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के महासचिव और झारखंड प्रभारी अविनाश पांडे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर, कांग्रेस विधायक दल नेता आलमगीर आलम के प्रति अनुशासन समिति ने आभार व्यक्त किया और निर्णय लिया कि अनुशासन समिति के गठन की सूचना आधिकारिक रूप से सभी जिलाध्यक्ष, विधायक, सांसद को भी दे दी जाए। साथ ही इस पर भी सहमति बनी कि अनुशासन समिति पूरी तरह से कांग्रेस संविधानों के प्रावधानों के अनुरूप निष्पक्ष रूप से अनुशासनहीनता के मामले का निपटारा सभी स्तर के कार्यकर्ताओं के लिए एक समान तय करने के आधार पर होगा।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *