Jharkhand : प्रो दिगंबर हांसदा के निधन से समाज को एक बड़ी क्षति हुई है – बन्ना गुप्ता

रांची, 19 नवम्बर । राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा है कि प्रख्यात साहित्यकार और आदिवासी समाज के पुरोधा, पद्मश्री प्रोफेसर दिगंबर हांसदा के निधन से समाज को एक बड़ी क्षति हुई हैं, जिसे पूरा करना नामुमकिन हैं।उन्होंने संथाली भाषा और साहित्य के विकास लिए उल्लेखनीय योगदान दिया है।

गुप्ता ने कहा कि साहित्यकार के रूप में उनकी भूमिका एक अभिभावक के रूप में रही हैं।व्यक्तिगत जीवन में उन्होंने हमेशा मुझे प्रेरित किया है और उनका मार्गदर्शन और सानिध्य प्राप्त होता रहा हैं। उनका जाना मेरे लिए भी व्यक्तिगत क्षति हैं और मैंने एक मार्गदर्शक खो दिया है।दिगंबर हांसदा के निधन से  शिक्षा एवं साहित्य को बड़ा नुकसान :  लंबोदर महतो आजसू  पार्टी के केन्द्रीय महासचिव और विधायक लंबोदर महतो ने भी दिगंबर हांसदा के निधन पर  दु:ख व्यक्त किया है।

उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा है कि दिगंबर हांसदा संथाली भाषा एवं साहित्य के विकास में अविस्मरणीय योगदान के लिए सदैव याद किए जाते रहेंगे। दिगंबर हंसदा की सामाजिक क्षेत्र में भी व्यापक पहचान रही है।  वे सरल व्यक्तित्व के धनी थे। कई पुस्तकों का देवनागरी से संथाली भाषा में अनुवाद किया।

(हि. स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *