Jharkhand : झारखंड में स्कूलों के नाम बदलने के मामले में राज्य सरकार गंभीर

रांची, 22 जुलाई । झारखंड में स्कूलों के नाम बदलने के मामले में राज्य सरकार गंभीर है। स्कूली शिक्षा सचिव राजेश शर्मा ने शुक्रवार को अधिकारियों से कहा कि स्कूल का नाम बदले जाने के दोषियों से स्पष्टीकरण पूछें। इसके लिए जिम्मेदार बीईईओ को चिन्हित करें। अगर संतोषजनक जवाब नहीं मिला तो सस्पेंड कर डिपार्टमेंटल प्रोसिडिंग चलायें।

उन्होंने कहा कि स्कूलों का नाम बदला जाना गलत है। इसे स्कूल प्रबंधन कमेटी को देखना चाहिए। अगर कमेटी काम नहीं कर सकती है तो स्कूल कमेटी को बदल कर नयी कमेटी बनायें।साथ ही कहा कि अगर बीआरपी, सीआरपी की मिलीभगत से ऐसा हो रहा है तो उनके विरुद्ध यह कार्रवाई झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा की जायेगी। चूंकि बीआरपी, सीआरपी अनुबंध पर काम करते हैं, इसलिए इनके द्वारा संतोषजनक जवाब नहीं देने पर सेवामुक्त करने की कार्रवाई की जायेगी। स्कूली शिक्षा विभाग इस मसले पर गंभीरता से मंथन भी कर रहा है।

सचिव ने कहा कि स्कूलों का नाम बदले जाने को लेकर विभाग को कई सूचनाएं मिली थीं, जिसके बाद उक्त कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि जिन जिला शिक्षा पदाधिकारियों और जिला शिक्षा अधीक्षकों को स्कूलों के नाम बदलने की जानकारी दी गई थी, उनके विरुद्ध भी कार्रवाई की जायेगी। इस मामले में जामताड़ा के जिला शिक्षा पदाधिकारी अभय शंकर से स्पष्टीकरण पूछा गया है। समीक्षा के बाद अन्य जिला शिक्षा पदाधिकारियों व जिला शिक्षा अधीक्षकों के विरुद्ध भी कार्रवाई हो सकती है। इधर, जिन स्कूलों में प्रार्थना बदली गयी उनके प्रधानाध्यापकों या प्रभारी शिक्षकों के विरुद्ध भी कार्रवाई का आदेश दिया गया है।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.