झारखंड : एक करोड़ के इनामी नक्सली अनल दा के दो सेक्शन कमांडर ढेर

रांची, 02 सितम्बर । झारखंड के डीजीपी नीरज सिन्हा और आईडी अभियान एवी होमकर के नेतृत्व में झारखंड में भाकपा (माओवादी) संगठन के खिलाफ रणनीति के तहत लगातार प्रहार किया जा रहा है। इसी क्रम में शुक्रवार को सूचना मिली कि सरायकेला, चाईबासा और खूंटी जिले के सीमावर्ती इलाके में एक करोड़ के इनामी नक्सली अनल की अगुवाई में नक्सलियों का जमावड़ा है, जो बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में है। ये इलाका ट्राई जंक्शन के रूप में जाना जाता है। नक्सलियों के नापाक इरादे को असफल करने की योजना से अभियान के लिए एक संयुक्त टीम का गठन किया गया।

आईजी अभियान एवी होमकर ने पुलिस मुख्यालय में शुक्रवार को बताया कि कोबरा-209, झारखंड जगुआर, सरायकेला और चाईबासा पुलिस के साथ सीआरपीएफ का संयुक्त दल कुचाई थाना के बारूदा के घोर जंगली क्षेत्र में सघन अभियान चलाते हुए आगे बढ़ रही थी। तभी अचानक नक्सलियों ने पुलिस बल को लक्षित कर ताबड़तोड़ गोली-बारी शुरू कर दी। अभियान दल ने मोर्चा संभाला और नक्सलियों की गोली-बारी पर जवाबी कार्रवाई की। पुलिसबल को भारी पड़ता देख नक्सली भीषण जंगली क्षेत्र का फायदा उठाते हुए भाग निकले। मुठभेड़ के बाद उक्त इलाके की घेराबंदी कर सघन तलाशी अभियान चलाया गया। इस दौरान एक पुरुष और एक महिला माओवादी का शव अत्याधुनिक हथियार के साथ बरामद हुआ। इस संयुक्त अभियान में नक्सलियों का एक बड़ा कैम्प भी ध्वस्त कर दिया गया।

आईजी ने बताया कि अत्याधुनिक हथियार और गोली का जखीरा की बरामदगी के साथ कई नक्सलियों को गोली लगने की भी खबर है। शुरुआती जांच-पड़ताल में मारे गये दोनों नक्सलियों की पहचान अनल दा दस्ते के सेक्शन कमाण्डर काली मुण्डा और रिला माला उर्फ संथाली के रूप में हुई। इस तलाशी अभियान में एक एसएलआर, पांच मैगजीन, वायरलेश सेट एक एवं अन्य दैनिक उपयोग के समान बरामद हुआ है, जिसके सत्यापन की कार्रवाई चल रही है।

उन्होंने बताया कि ट्राई जंक्शन पर मिली इस बड़ी सफलता से नक्सलियों की कमर टूट गयी है। अनल दा की टीम माओवादी का एक सशक्त दस्ता के रूप में जाना जाता है, जो लगातार कई वर्षो से पुलिस बल एवं आम लोगों को क्षति पहुंचा रहा था। झारखंड पुलिस की ओर से पहली बार इस दस्ते को काफी नुकसान पहुंचाया है। यह झारखंड पुलिस के लिए बहुत बड़ी सफलता है।

उल्लेखनीय है कि बीते गुरुवार को गढ़वा पुलिस की ओर से पांच लाख के इनामी भाकपा (माओवादी) सब जोनल कमाण्डर रविन्द्र मेहता को गिरफ्तार किया था। साथ ही चतरा पुलिस की ओर से टीपीसी उग्रवादी जोनल कमाण्डर भैरव गंझू को अत्याधुनिक अमेरिकन राइफल पुलिस से लूटे गये इंसास राइफल एवं गोली के जखीरे के साथ पकड़ा गया था।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *