Jharkhand Update : मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है बेहतर भोजन और माहौल, सिविल सर्जन

रामगढ़, 10 अक्टूबर : सिविल सर्जन कार्यालय अंतर्गत सभागार में सिविल सर्जन डॉक्टर नीलम चौधरी की अध्यक्षता में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के तहत कार्यशाला का आयोजन किया। शनिवार को कार्यशाला के दौरान सिविल सर्जन डॉक्टर नीलम चौधरी ने कहा कि भागती दौड़ती जिंदगी में शरीर की थकान एक आम बात है। कभी-कभी थकान की वजह से हम किसी शारीरिक बीमारी का भी शिकार बन जाते हैं। शारीरिक बीमारी सभी को नजर आती है। कम से कम पीड़ित को भी इसके बारे में पता होता है कि वह बीमार है। उसे इलाज की जरुरत है।

लेकिन मानसिक बीमारी या मानसिक रूप से अस्वस्थ होने पर कभी-कभी उस व्यक्ति को भी पता नहीं चलता, जो खुद इस बीमारी से जूझ रहा होता है। ऐसे में मेंटल हेल्थ को लेकर जागरुकता बेहद जरूरी है। आज दुनिया में कई कारणों से लोग डिप्रेशन या अन्य मानसिक बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। कई बार लोग मानसिक रोग की चपेट में इस प्रकार आ जाते हैं कि उन्हें आत्महत्या के ख्याल भी आने लगते हैं। ऐसे में विश्व को मेंटल हेल्थ के प्रति जागरूक करना बेहद जरूरी है। मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के उपायों के संबंध में बताते हुए सिविल सर्जन ने बताया कि यदि कोई व्यक्ति चिंता और तनाव महसूस कर रहा है तो उसे ज्यादा से ज्यादा परिवार एवं दोस्तों के संपर्क में रहना चाहिए, नियमित रूप से व्यायाम एवं पर्याप्त नींद लेनी चाहिए, इसके साथ संतुलित आहार भी मानसिक रूप से स्वस्थ रहने में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है। उन सब के अलावा जो सबसे जरूरी बात है वह है सकारात्मक रहने कि। हम सभी को हमेशा अपनी सोच सकारात्मक बनाए रखनी चाहिए ताकि हम मानसिक तनाव से पूरी तरह बच सकें।

यदि कोई व्यक्ति चिंता और तनाव महसूस कर रहा है तो वह स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर +91-11-2397-8746 या राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर 1075 पर संपर्क कर सकता है। इसके साथ ही सभी झारखंडवासी राज्य स्तरीय टोल फ्री नंबर 104 पर संपर्क कर सकते हैं। इस दौरान डी आर सी एच ओ, मेडिकल ऑफिसर सदर अस्पताल सहित अन्य अधिकारियों ने भी मानसिक रूप से स्वस्थ रहने हेतु कई महत्वपूर्ण जानकारियां दी एवं अन्य के साथ इस पर विस्तार पूर्वक चर्चा की।

कार्यशाला के दौरान डीआरसीएचओ, मेडिकल ऑफिसर सदर अस्पताल, मेडिकल ऑफिसर सदर अस्पताल सह प्रभारी जिला यक्ष्मा पदाधिकारी, उपाधीक्षक सदर अस्पताल, डीपीसी, अस्पताल प्रबंधक सहित अन्य उपस्थित थे।

एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published.