Jharkhand : कोरोना में गाइडलाइन का पालन कर सत्र का सदुपयोग करें: स्पीकर

रांची, 15 सितम्बर ।झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रवींद्र नाथ महतो की अध्यक्षता में मंगलवार को विधायक दल के नेताओं व प्रतिनिधियों की बैठक हुई । बैठक में सत्र से संबंधित विचार विमर्श हुए। विधानसभा अध्यक्ष ने बैठक में सत्र के सुचारू संचालन के निमित्त सुझाव मांगे। उन्होने कहा कि संक्रमण काल में 18 सितंबर से सत्र आहुत हुआ है। कोविड-19 के गाईडलाईन को फॉलो करते हुए हम सभी को सत्र का सदुपयोग करना है। विधानसभा सदस्य प्रदीप यादव ने कहा कि अनुपूरक बजट पर चर्चा के लिए समय इस प्रकार आवंटित हो कि छोटे दलों को भी प्रयाप्त समय मिल पाये। निर्दलीय विधायक सरयू राय ने प्रस्ताव दिया कि चर्चा का समय विस्तृत करने के लिए यदि संभव हो तो सत्र का समय 11ः00 बजे पूर्वा0 से घटाकर 10ः00 बजे पूर्वा से भी रखा जा सकता है। विधानसभा अध्यक्ष ने बैठक में सोशल डिस्टेशिंग को फॉलो करते हुए सभा की आसन व्यवस्था के संबंध में विचार विमर्श किया हैं। बैठक में मंत्री सह नेता राष्ट्रीय दल सत्यानन्द भोक्ता, मंत्री मिथिलेश ठाकुर, सदस्य सरयू राय, सदस्य प्रदीप यादव, सदस्य बिनोद सिंह एवं विधान सभा के सचिव महेन्द्र प्रसाद उपस्थित थे। 
 इससे पहले विधान सभा अध्यक्ष  ने झारखण्ड विधान सभा भवन के कॉन्फ्रेंस हॉल में विभाग के वरीय पदाधिकारियों के साथ आगामी मानसून सत्र को लेकर उच्चस्तरीय बैठक की। बैठक में विधानसभा अध्यक्ष ने बारी-बारी से  वरीय पदाधिकारियों को सत्र एवं कोविड़-19 के संक्रमण से बचाव के प्रबंधन के निमित्त दिशा-निर्देश दिये। उन्होने स्वास्थय सचिव को निर्देश दिया कि कोविड टेस्ट के विधान सभा परिसर में चल रहे कैंप के प्रबंधन को दुरूस्त रखे और अधिक से अधिक लोगो का जाँच करवाना सुनिश्चित करे। गृह विभाग के संयुक्त सचिव को यह निर्देश दिया कि विधान सभा की ओर आने वाली सड़क के मुहाने पर ट्रैफिक पुलिस पिकेट तथा विधान सभा भवन की सुरक्षा व्यवस्था के लिए एक उप थाना का गठन किया जाय। विधि सचिव चलते सत्र में आने वाले विधेयक को 17 सितंबर तक सभा सचिवालय को सुपूर्द करने का निर्देश दिया गया । अध्यक्ष ने कैबिनेट सचिव से लंम्बित आश्वासन, शून्यकाल एवं अनागत प्रश्न के संबंध में प्रतिवेदन प्रस्तुत करने को कहा। प्रधान सचिव मंत्रिमंडल अजय कुमार सिंह ने अपने प्रतिवेदन के माध्यम से संबंधित विषयो पर अद्यतन रिपोर्ट उपलब्ध करायी।
 बैठक में संचार व्यवस्था, विद्युत आपूर्ति एवं जलापूर्ति के संबंध में भी दिशा-निर्देश दिये गये। साथ ही विधानसभा अध्यक्ष ने यह भी कहा कि विभागीय पदाधिकारी अल्पसूचित एवं तारांकित प्रश्नो के उत्तर निर्धारित तिथि से एक दिन पूर्व सभा सचिवालय को अप0 6ः00 बजे तक निश्चित रूप से उपलब्ध करा दे। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने प्रेस सलाहकार समिति के साथ बैठक की। बैठक में कोविड के संक्रमण के निमित्त पत्रकार बंधुओ से सोशल डिस्टेशिंग को फॉलो करते हुए समाचार संकलन की हिदायत दी। उन्होने यह भी कहा सभा सचिवालय यह प्रयास कर रही है कि विधान सभा के कार्यवाहियों का प्रसारण सभी को उपलब्ध कराये ताकि भीड़-भाड़ से बचते हुए भी आप सभी निपुणता के साथ अपनी कार्यो को निष्पादित कर पायें।

( हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *