Jodhpur violence: जोधपुर की घटना गहलोत सरकार का इकबाल की खत्म होने का संकेत- पूनियां

भीलवाड़ा, 04 मई । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां बुधवार को भीलवाड़ा जिले के बिजोलिया उपखंड मुख्यालय पर पहुंचे। जोधपुर की घटना को लेकर भाजपा के प्रदेश व्यापी आव्हान पर यहां एसडीएम कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे तथा राज्यपाल के नाम पर ज्ञापन दिया। डॉ. पूनियां ने कहा कि जोधपुर सहित प्रदेश की ताजा घटनाओं ने बता दिया है कि प्रदेश में गहलोत सरकार का इकबाल ही खत्म हो रहा है।

धरने के दौरान पूनियां ने अशोक गहलोत सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए गहलोत सरकार को होश में आने की नसीहत दी। बिजोलिया के लोगो ने उन्हें गदा भेट की हैं, वो इस गदा का इस्तेमाल सरकार को उखाड़ फेंकने में काम में लेगे। उन्होंने कहा की बिजोलिया की जनता उखाड़ फेंकने की विशेषता रखती है, क्योंकि यहां की धरती से लोग पत्थर निकालना जानते है। लोग सरकार भी निकाल सकते है।

इस दौरान पूनिया ने सरकार के 40 माह हो जाने एवम सरकार में आने से पूर्व किए गए वादों पर अमल नहीं करने पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया। पूनियां ने कहा की सरकार ने 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ करने को कहा था। उन्होंने इसे ताजुब बताते हुए कहा की यदि भगवान कृष्ण भी होते तो इस तरह का चमत्कार नही कर पाते की 10 दिन में कर्जा माफ हो जाता लेकिन 12 सौ दिन में किसानों को आत्महत्या के लिऐ मजबूर होना पड़ा है लेकिन माफी का नाम हैं। सरकार को घेरते हुए पूनिया ने परीक्षाओ में सरकार द्धारा संगठित अपराध कर पेपर लीक कराना, भ्रष्टाचार में कांग्रेस द्धारा रेट तय करने, गहलोत सरकार द्धारा खुद की सुरक्षा में ध्यान देना और आमजन की सुरक्षा पर ध्यान नहीं देने एवं प्रदेश में कानून का राज खत्म होने के आरोप लगाते हुए राज्य सरकार को घेरा।

इसके बाद पूनिया के नेतृत्व में भाजपा ने उपखंड अधिकारी सीमा तिवाड़ी को ज्ञापन सोप जोधपुर हुए दंगो में आरोपियों को हिरासत में लेने सहित क्षेत्र की कई समस्याओ को लेकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया। इस दौरान पूनिया ने गहलोत के जिला मुख्यालय में अराजक तत्वों द्धारा कारित की गई घटना को सरकार की विफलता बताते हुए मामले की तह तक जाने की मांग की।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.