केजरीवाल ने विधायकों के साथ राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली, 25 अगस्त। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी (आप) विधायकों ने गुरुवार को राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी और भाजपा के ‘ऑपरेशन लोटस’ की विफलता के लिए प्रार्थना की।

केजरीवाल अपने विधायकों के साथ बैठक के बाद सीधे राजघाट पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान भारतीय जनता पार्टी पर कई गंभीर आरोप लगाए। केजरीवाल ने कहा कि भाजपा ने उनके विधायकों को 20 करोड़ रुपये देकर तोड़ने की कोशिश की।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का बचाव करते हुए केजरीवाल ने कहा कि मनीष सिसोदिया के आवास पर सीबीआई ने गद्दे, दीवारों की भी तलाशी ली, लेकिन कोई आपत्तिजनक सामग्री नहीं मिली। उन्होंने कहा कि सीबीआई छापे के एक दिन बाद भाजपा ने मनीष सिसोदिया को मुख्यमंत्री पद की पेशकश की। सिसोदिया को मुख्यमंत्री पद का लालच नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने मेरी सरकार गिराने के लिए 40 विधायकों की जरूरत है, इसके लिए उसने 800 करोड़ रुपये रखे हैं। आप विधायक बिक जाने के बजाय मर जाएंगे।

केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने पिछले जन्म में जरूर कुछ अच्छे काम किए थे जो उन्हें मनीष सिसोदिया जैसा साथी मिला है। उन्होंने कहा कि मनीष ने भाजपा का प्रस्ताव ठुकरा दिया है लेकिन भाजपा अभी भी आप विधायकों को तोड़ने की कोशिश में जुटी है। केजरीवाल ने कहा कि उन्हें सूचना मिली है कि उनके विधायकों को 20-20 करोड़ रुपये का प्रलोभन दिया गया था।

केजरीवाल ने कहा कि यह उनके लिए खुशी की बात है कि आप विधायकों ने 20 करोड़ रुपये के ऑफर को ठुकरा दिया है। वह दिल्ली की जनता को बताना चाहते हैं कि उन्हें ईमानदार पार्टी को वोट किया है।

इसके पहले केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था कि दिल्ली सरकार गिराने के लिए इन्होंने 800 करोड़ रखे हैं। प्रति विधायक 20 करोड़ रुपये देने को तैयार हैं। उन्हें देश को बताना चाहिए कि यह 800 करोड़ किसके हैं, कहां रखे हैं? उन्होंने कहा कि हमारा कोई विधायक टूटने वाला नहीं है। दिल्ली में चल रहे सभी अच्छे काम जारी रहेंगे।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *