केजरीवाल ने सरकारी स्कूलों को शानदार बनाने के लिए मोदी को लिखा पत्र

नयी दिल्ली, 07 सितंबर : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर देश के सभी सरकारी स्कूलों को एक साथ अगले पांच साल में शानदार बनाने के लिए योजना बनाने और उस पर कार्य करने की मांग की है।

श्री केजरीवाल ने देश के सभी सरकारी स्कूलों को एक साथ अगले पाँच साल में शानदार बनाने के संबंध में पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में लिखा है, “ मुझे मीडिया से पता चला है कि केंद्र सरकार ने देश भर में 14,500 स्कूलों को अपग्रेड करने की योजना बनाई है। ये बहुत अच्छी बात है। पूरे देश में सरकारी स्कूलों की हालत बहुत खराब है। उनको अपग्रेड और आधुनिक बनाने की बहुत जरूरत है। ”

उन्होंने लिखा, “ देश भर में रोज 27 करोड़ बच्चे स्कूल जाते हैं। इनमें लगभग 18 करोड़ बच्चे सरकारी स्कूलों में जाते हैं। देश में 80 फीसद से ज्यादा सरकारी स्कूलों की हालत किसी कबाड़खाने से भी ज्यादा खराब है। अगर करोड़ों बच्चों को हम ऐसी शिक्षा दे रहे हैं, तो सोचिए भारत कैसे विकसित देश बनेगा?”
मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है, “ 1947 में हमसे बहुत बड़ी गलती हुई। देश आजाद होते ही सबसे पहले हमें भारत के हर गाँव और हर मोहल्ले में शानदार सरकारी स्कूल खोलने चाहिए थे। कोई भी देश अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिए बिना तरक्की नहीं कर सकता। 1947 में हमने ऐसा नहीं किया। ज़्यादा दुःख की बात यह है कि अगले 75 साल भी हमने अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देने पर ध्यान नहीं दिया। क्या भारत अब और वक्त बर्बाद कर सकता है?”

श्री केजरीवाल ने कहा, “ आपने केवल 14,500 सरकारी स्कूलों को ठीक करने की योजना बनाई है, जबकि देश भर में 10 लाख से ज्यादा सरकारी स्कूल हैं। ऐसे तो सारे सरकारी स्कूलों को ठीक करने में 100 साल से भी ज्यादा लग जाएंगे, तो क्या अगले 100 साल भी हम दूसरे देशों से पीछे रह जाएँगे? देश के हर सरकारी स्कूल में शानदार शिक्षा की व्यवस्था के बिना हमारा देश विकसित देश नहीं बन सकता। ”
मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में उन्होंने बहुत कम पैसो में सरकारी स्कूल बहुत शानदार बना दिए। उन्होंने कहा,“ राष्ट्र निर्माण के इस कार्य में हम पूरी तरह आपका सहयोग करेंगे। ”

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *