HindiNationalNewsPolitics

जानिए क्यों सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने लालू यादव को दी पाकिस्तान जाने की सलाह

सीवान । असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने मुस्लिम आरक्षण को लेकर बिहार के पूर्व सीएम और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर जोरदार प्रहार किया। इतना ही नहीं उन्होंने लालू यादव को पाकिस्तान जाने की भी सलाह तक दे डाली।

बिहार के सीवान में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए सीएम सरमा ने कहा कि लालू यादव क्या बोल रहे हैं। मुसलमानों को भी आरक्षण देना चाहिए। क्या भारत में धर्म के आधार पर आरक्षण हो सकता है। कर्नाटक में कांग्रेस सरकार ने एससी, एसटी और ओबीसी का कोटा काटकर मुसलमानों को 60 प्रतिशत आरक्षण दिया। आंध्र प्रदेश में मुसलमानों को आरक्षण दिया। अब लालू यादव बोल रहे है कि पूरे देश में मुसलमानों को आरक्षण देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मैं लालू यादव को बोलना चाहता हूं। हिंदू पहले जैसे नहीं है, अब वो जाग चुका है। अगर आप मुसलमानों को रिजर्वेशन देना ही चाहते हो तो पाकिस्तान चले जाओ, उधर जाकर उनको आरक्षण देना। बता दें कि हाल ही में लालू प्रसाद यादव ने कहा था कि मुसलमानों को पूरा रिजर्वेशन मिलना चाहिए। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने अपने इस बयान पर सफाई भी दी थी।

लालू यादव ने अपने आधिकारिक एक्स अकाउंट पर लिखा था, “आरक्षण का आधार धर्म नहीं बल्कि सामाजिक पिछड़ापन होता है। प्रधानमंत्री को इतनी सी भी समझ नहीं है। मंडल कमीशन हमने लागू करवाया। क्या नरेंद्र मोदी ने कभी मंडल कमीशन और उसकी सिफारिशें पढ़ी है? मंडल कमीशन में 3,500 से अधिक पिछड़ी जातियों को आरक्षण मिलता है, जिसमें अन्य धर्मों की भी सैकड़ों जातियों को आरक्षण मिलता है।”

रैली को संबोधित करते हुए सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कांग्रेस नेता नाना पटोले के राम मंदिर का शुद्धिकरण करने वाले बयान को लेकर भी विपक्ष पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि अगर कांग्रेस की सरकार आएगी तो हम राम मंदिर का दोबारा शुद्धिकरण करेंगे। हमें पहले बताइए कि सोनिया गांधी हिंदू हैं या ईसाई? अगर सोनिया ईसाई हैं तो क्या हम उन्हें मंदिर को शुद्धिकरण करने की अनुमति देंगे। ये कांग्रेस पार्टी अभी भी राम मंदिर के पीछे है। लालू यादव अभी भी राम मंदिर के पीछे है। उनका मन है कि अगर कांग्रेस की सरकार बनती है तो वे दोबारा रामलला को टेंट में ले आएंगे। हमें देखना पड़ेगा कि रामलला मंदिर जैसा भव्य मंदिर बनाया। ऐसे ही हजारों सालों तक राम मंदिर भव्य रूप में रहना चाहिए।”

ज्ञात हो कि कांग्रेस नेता नाना पटोले ने राम मंदिर को लेकर एक विवादित टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस और इंडिया गठबंधन की सरकार आएगी तो राम मंदिर का शुद्धिकरण किया जाएगा, चारों शंकराचार्यों को बुलाकर राम मंदिर में विधिवत पूजा कराई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *