विद्यार्थियों के लिए साधन एवं सुविधा की कमी को पूरा किया जाएगा: शिवराज

भोपाल, 30 सितंबर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि विद्यार्थियों के लिए साधन एवं सुविधा की कमी को पूरा किया जाएगा।
श्री चौहान ने यहां लाल परेड मैदान में आयोजित ‘विद्यार्थी सम्मान समारोह’ कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्होंने कार्यक्रम में चिन्हिंत विद्यार्थियों को लैपटॉप क्रय हेतु प्रतीकात्मक चेक वितरित किये। इसके साथ ही उन्होंने प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत सिंगल क्लिक के माध्यम से 91,498 मेधावी विद्यार्थियों के बैंक खातों में लैपटॉप क्रय हेतु राशि अंतरित की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए साधन और सुविधा की कमी हम पूरा करेंगे। हमने सीएम राइज स्कूल की स्थापना की हैं। उनमें विद्यार्थियों को कैरियर की दिशा निर्धारित करने के लिए कैरियर काउंसलिंग सेल की स्थापना की जा रही है जो विद्यार्थियों की मदद करेंगे।

श्री चौहान ने कहा कि अलग-अलग प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं में सफलता के बाद फीस की चिंता मत करना, बस मेहनत करते जाना। वे उनके साथ खड़े है। मेरे बेटा-बेटियों, आपके उज्ज्वल भविष्य के लिए हमने कई योजनाएं बनाई हैं। उनमें एक है मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना। बारहवीं में जो विद्यार्थी 70 प्रतिशत अंक से ज्यादा नंबर लेकर आएगा और माता-पिता की वार्षिक आय 6 लाख रुपए या उससे कम है, तो उसके स्नातक की फीस माता-पिता नहीं हम भरवाएंगे।

उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि ये पड़ाव है, मंजिल अभी आगे है। मेरे बेटा-बेटियों, हमें उस मंजिल तक पहुंचना है। तुम जो सोचोगे, वह बन जाओगे। जरूरत है बस लक्ष्य तय करने की। उन्होंने कहा कि उनके लिए सबसे खुशी के पल वह होते हैं जब वे अपने भांजे-भांजियों के बीच में होते हैं। उन्होंने कहा कि उनकी ईश्वर से यही प्रार्थना है कि मेरे प्रतिभाशाली बच्चे सदैव आगे बढ़ते हुए महान भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करें।

श्री चौहान ने छात्र छात्राओं से कहा कि अपने माता-पिता का सदैव सम्मान करना, अपने गुरुजनों का मान-सम्मान और आदर रखना, माताओं-बहनों और बेटियों की इज्जत करना। नशे से दूर रहना। उन्होंने कहा कि एक वचन वे आपको दे रहे हैं नशे का उपयोग करवाने वाले माफिया, गुंडे, बदमाश को छोड़ा नहीं जाएगा।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *