विकास के मुद्दों को छोड़ मोदी को औकात दिखाने में प्रयासरत है कांग्रेस: मोदी

  • सुरेन्द्रनगर के ध्रांगध्रा में भाजपा के विजय संकल्प सम्मेलन को मोदी ने किया संबोधित

अहमदाबाद, 21 नवंबर । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि हम चुनाव में विकास को मुद्दा बनाना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस अच्छी तरह समझती है कि विकास के चुनावी मुद्दे बनने पर भाजपा उसे पीछे छोड़ देगी। भाजपा अपने कामों को बताएगी। इसलिए कांग्रेस मोदी को चुनाव में औकात दिखाने की बात कहती है। कांग्रेस का यह अहंकार है, जो ऐसा वह कर रही है। ऐसा प्रयास करने वाले तो राजपरिवार के हैं, लेकिन वे सामान्य परिवार के हैं, सेवक हैं, सेवादार हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को अपने गुजरात प्रवास के तीसरे दिन सुरेन्द्रनगर जिले के ध्रांगध्रा में एक चुनाव सभा को संबोधित कर रहे थे। मोदी ने कहा कि चुनाव को विकास के मुद्दे से भटकाने के लिए उन्हें कभी नीची जाति का, मौत का सौदागर और गंदी नाली का कीड़ा कहा जाता है। उन्होंने विरोधियों से कहा कि यह औकात बताने का खेल रहने दें, विकास पर चर्चा करें।

सुरेन्द्रनगर जिले की सभी पांच सीटों के भाजपा उम्मीदवारों की मौजूदगी में उन्होंने इस बार भी कमल खिलाने की अपील की। मोदी ने अपने भाषण के दौरान सुरेन्द्रनगर में पानी की समस्या के साथ 20 साल में आए बदलाव का उल्लेख किया। उन्होंने युवाओं को खास केन्द्र में रखते हुए कहा कि आगामी 25 साल भारत की आजादी की शताब्दी वर्ष है तो उनके भविष्य के लिए भी महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने सुरक्षित और उज्ज्वल भविष्य के लिए युवाओं को भाजपा के साथ रहने की अपील की। मोदी ने कहा कि गुजरात प्रो इन्कमबेंसी वाला राज्य है। यहां की जनता ने काम करने वाली सरकार को समर्थन देकर नई राजनीतिक राह दिखाई है।

नर्मदा विरोधियों को जनता सजा देगी

मोदी ने कहा कि उन्होंने पूर्व में कहा था कि नर्मदा योजना पूरी होने पर इसका सबसे ज्यादा लाभ सुरेन्द्रनगर को होगा, जो अब होना शुरू हो गया है। कांग्रेस पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि जिन्हें लोगों ने हटा दिया है, वे लोग नर्मदा विरोधियों के साथ पदयात्रा कर रहे हैं। उनके कंधे पर हाथ रख रहे हैं। इन लोगों ने गुजरात को प्यासा रखते हुए 40 वर्ष तक नर्मदा मामले में कोर्ट-कचहरी के जरिए रोके रखा था। ऐसे लोगों के कंधे पर हाथ रखने वाले को जनता जरूर सजा देगी।

नमक खाकर भी देते हैं गाली

विरोधियों पर निशाना साधते हुए नरेन्द्र मोदी ने कहा कि देश में ऐसा कोई नहीं होगा, जो गुजरात का नमक नहीं खाता हो। गुजरात में कुल नमक उत्पादन का करीब 80 फीसदी बनाया जाता है, लेकिन कई लोग गुजरात का नमक खाकर गाली देते हैं। कांग्रेस के शासन में वे लोग सभी सीट जीत जाते थे, लेकिन नमक बनाने वाले लोगों की उन्होंने कभी परवाह नहीं की। नमक बनाने वाले श्रमिकों के पैर में जूता नहीं होता था। भाजपा सरकार ने उनके लिए काम किया, योजनाएं लागू की जिससे उनके परिवार की खुशहाली आने लगी।

मोदी ने कहा कि उन्होंने युवाओं के सशक्तिकरण के लिए बीड़ा उठाया है। उनकी शिक्षा, स्कील डवलपमेंट और वोकेशनल कोर्स को बढ़ाया, गुजरात को हायर एजूकेशन का गढ़ बनाया गया, शिक्षा को रोजगारपरक बनाया और प्रो एक्टिव स्टार्टअप बनाया। इसके परिणामस्वरूप 14 हजार स्टार्टअप गुजरात में हैं। भूपेन्द्र पटेल सरकार की सराहना करते हुए मोदी ने कहा कि नई औद्योगिक पॉलिसी लागू की गई, जिसमें लघु उद्योग को बढ़ावा मिलेगा। मोदी ने युवाओं से कहा कि यह चुनाव पांच साल का नहीं है, उनके उज्ज्वल भविष्य और गोल्डन पीरियड के लिए चुनाव है।

देश के 130 करोड़ लोगों के भला करने का लक्ष्य

मोदी ने कहा कि उनका लक्ष्य देश के 130 करोड़ लोगों का भला करना है। भारत को विकसित राष्ट्र बनाना है। विकसित गुजरात से विकसित भारत बनेगा। इसके लिए उन्हें धीमी गति पसंद नहीं है। उन्हें 24 घंटे और 365 दिन काम करना है। उन्हें कोई वैकेशन नहीं लेना है। गुजरात यदि राह दिखाएगा तो देश उसके पीछे चल पड़ेगा। भारत को दुनिया के श्रेष्ठ देशों में शामिल करना है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *