एलआईसी बनी देश की सबसे अधिक रेवेन्यू वाली कंपनी, रिलायंस इंडस्ट्रीज को पीछे छोड़ा

-फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में एलआईसी 98वें और रिलायंस 104वें पायदान पर

नई दिल्ली, 4 अगस्त । भारत में जीवन बीमा क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) पहली बार फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में अपना जगह बनाने में कामयाब हुई है। एलआईसी को ये उपलब्धि उसके रिकॉर्डतोड़ आईपीओ के बदौलत मिली है। इसकी वजह से एलआईसी के नेट रेवेन्यू में जबरदस्त उछाल आया है।

आपको बता दें कि भारतीय जीवन बीमा निगम के आईपीओ की लिस्टिंग के बाद शेयर बाजार में उसके मौजूदा हालात ने तो निवेशकों को काफी निराश किया है, लेकिन इस आईपीओ की वजह से ही एलआईसी को पहली बार फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में न केवल जगह मिली है, बल्कि पहली बार में ही एलआईसी ने इस लिस्ट की टॉप 100 कंपनियों के बीच अपनी जगह बना ली है। टोटल रेवेन्यू के मामले में एलआईसी ने 98वें स्थान पर कब्जा करके भारत की सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज को भी पीछे छोड़ दिया है। फॉर्चून ग्लोबल 500 लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज एलआईसी से 6 पायदान नीचे 104वें पायदान पर अपनी जगह बना सकी है।

फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में दिए गए आंकड़ों के मुताबिक 97.26 बिलियन डॉलर के रेवेन्यू और 553.8 मिलियन डॉलर के नेट प्रॉफिट के साथ भारतीय जीवन बीमा निगम ने इस सूची में 98वें स्थान पर अपना कब्जा किया है। साथ ही भारतीय कंपनियों के बीच पहला स्थान हासिल किया है। एलआईसी को फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में पहली बार जगह मिली है। वहीं इस लिस्ट में पिछले 19 साल से मौजूद देश की सबसे बड़े लिस्टेड कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 93,982 मिलियन डॉलर के नेट रेवेन्यू के साथ 104वां स्थान हासिल किया है।

इस लिस्ट में एलआईसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के अलावा 79,542.4 मिलियन डॉलर के नेट रेवेन्यू के साथ इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) 142वें स्थान पर, 65,961.5 मिलियन डॉलर के नेट रेवेन्यू के साथ ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) 190वें स्थान पर तथा भारत में बैंकिंग सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) 54,639.2 मिलियन डॉलर के रेवेन्यू के साथ 236वें स्थान पर है।

इसी तरह 46,467.3 मिलियन डॉलर के राजस्व के साथ भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) 295वें पायदान पर है। फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में टाटा ग्रुप की दो कंपनियां भी अपनी जगह बनाने में सफल रही हैं। टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा मोटर्स 37,797.2 मिलियन डॉलर के राजस्व के साथ इस सूची में 370वें स्थान पर है, जबकि 32,861.1 मिलियन डॉलर के नेट रेवेन्यू के साथ टाटा स्टील फॉर्च्यून ग्लोबल 500 लिस्ट में 435वें स्थान पर है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.