Mahant Narendra Giri death case: केन्द्रीय कारागार नैनी से तीनों आरोपितों को कस्टडी में ले गई सीबीआई टीम

प्रयागराज, 27 सितम्बर। महन्त नरेन्द्र गिरी की मौत मामले के तीनों आरोपितों को केन्द्रीय कारगार नैनी से मंगलवार सुबह कस्टडी में लेकर सीबीआई टीम वहां से निकली। महन्त के कथित आत्महत्या मामले में पूंछताछ करने के लिए ले गई।

सात दिन की कस्टडी रिमांड में केन्द्रीय जांच ब्यूरो की टीम मंगलवार सुबह लगभग नौ बजे केन्द्रीय कारागार नैनी पहुंची। विधिक कार्रवाई करते हुए जेल के अधिकारियों ने तीनों आरोपितों को सौप दिया। सीबीआई टीम कड़ी सुरक्षा के साथ जेल से लेकर रवाना हो गई। सूत्रों की माने तो महन्त की मौत मामले में मुख्य आरोपित महन्त आनन्द गिरी और बड़े हनुमान मंदिर के पुजारी रहे आद्या तिवारी और उसके बेटे संदीप तिवारी को कस्टडी में लेकर पहले किसी गोपनीय स्थान पर ले गई। जहां सीबीआई और एसआईटी आत्महत्या से जुड़े कई अहम जानकारी जुटाएगी।

गौरतलब है कि, सोमवार को सीजेएम कोर्ट के न्यायाधीश हरेन्द्र नाथ ने सीबीआई की याचिका पर यह फैसला दिया था। तीनों आरोपितों की कस्टडी रिमांड 28 सितम्बर की सुबह नौ बजे से 4 अक्टूबर शाम 5 बजे तक के लिए मंजूर की है। केन्द्रीय जांच ब्यूरो के मुख्य जांच अधिकारी केएस नेगी ने रविवार की शाम दस दिन कस्टडी रिमांड के लिए याचिका दाखिल की थी। सीजेएम कोर्ट में सीबीआई की ओर से दखिल याचिका की सुनवाई सोमवार को हुई थी। मामले में गिरफ्तार महन्त आनन्द गिरी समेत तीनों आरोपितों की सात दिन की रिमांड मंजूर की।

महन्त नरेन्द्र गिरी की मौत के बाद तीनों आरोपितों को गिरफ्तार करके पुलिस ने न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां पेश किया था जहां से न्यायालय ने तीनों को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। साधु-संतों की मांग पर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की संस्तुति के बाद सीबीआई मामले की जांच शुरू कर दी है।

(हि.स)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *