Maharashtra Update : कोरोना काल में बच्चों के इलाज पर विशेष ध्यान दें : उद्धव ठाकरे

मुंबई। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को बालरोग विशेषज्ञ डॉक्टरों से चर्चा की और उन्हें बच्चों के इलाज पर विशेष ध्यान देने का निर्देश भी दिया। साथ ही मुख्यमंत्री ने सूबे की जनता को बच्चों के इलाज के प्रति सचेत रहने की भी अपील की। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की लड़ाई लोगों के सहयोग से ही हम जीतेंगे, इसमें शक नहीं है।

मुख्यमंत्री ठाकरे ने राज्य के 6,300 बालरोग विशेषज्ञों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा के दौरान कहा कि कोरोना की रफ्तार फिलहाल धीमी पड़ गई है, लेकिन आगामी दिनों में इसकी पुनरावृत्ति को रोकने का प्रयास हम सभी को मिलकर करना जरूरी है। इस लड़ाई को जीतने में जनसहयोग जरूरी है, जो राज्य की जनता दे रही है, लेकिन कोरोना का प्रभाव अब बच्चों तक पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। इसलिए अभी से सभी लोगों को सावधान हो जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की पहली लहर के बाद आई दूसरी लहर का राज्य ने सामना किया है। कोरोना की दूसरी लहर में पहली लहर से अपेक्षा कम उम्र के लोग इसका शिकार हुए हैं। इसी वजह से कोरोना की तीसरी लहर की आंच बच्चों तक पहुंचने की संभावना जताई जाने लगी है। इसी वजह से राज्य सरकार 18 सेे 44 तक की उम्र के लोगों के लिए 12 करोड़ वैक्सीन एकसाथ खरीदने के लिए प्रयासरत है। मुख्यमंत्री ने कोरोना कालखंड में बच्चों के इलाज और उनके रहन-सहन, उन्हें होने वाली अन्य बीमारियों को लेकर सावधान रहने का निर्देश दिया है।

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर बाल कोविड सेंटर और बाल चिकित्सा टास्क फोर्स की स्थापना की गई है।

मुख्यमंत्री ठाकरे के साथ चर्चा के दौरान टास्क फोर्स के अध्यक्ष डॉ. सुहास प्रभु और सदस्य डॉ. विजय येवले, डॉ. परमानंद आंदणकर ने कोरोना संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी दी। टास्क फोर्स की तरफ से बताया गया कि कोरोना का असर आगामी दिनों में बच्चों पर भी हो सकता है। इसलिए बच्चों को लेकर सावधान रहना आवशयक है। मौके पर टास्क फोर्स के सदस्य डॉ. शशांकजोशी, डॉ. संजय ओक, डॉ. तात्याराव लहाने ने बच्चों की देखभाल के लिए आवश्यक सुझाव दिया।

 (हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES