Major Events in History : भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 दिसंबर की प्रमुख घटनाएं

नयी दिल्ली : भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 दिसंबर की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं..

1556 : बादशाह अकबर के दरबार के प्रसिद्ध कवि रहीम का निधन।

1645 : मुगल सम्राट जहांगीर की पत्नी नूरजहां का निधन।

1715 : सिखों के प्रमुख बंदा बहादुर बैरागी ने गुरुदासपुर में मुगलों के सामने आत्मसमर्पण किया.

1779 : मराठों और पुर्तगलियों के बीच लंबे संघर्ष के बाद मराठा सरकार ने मित्रता सुनिश्चित करने के लिए इस प्रदेश के कुछ गांवों का 12,000 रुपये का राजस्व क्षतिपूर्ति के तौर पर पुर्तगÞालियों को सौंप दिया था.

1905 : भारत के पहले मुस्लिम मुख्य न्यायाधीश एवं प्रथम कार्यवाहक राष्ट्रपति मुहम्मद हिदायतुल्लाह का जन्म।

1907 : उग्येन वांगचुक भूटान के पहले वंशानुगत राजा बने।

1914 : पोलैंड के लिमानोव में आस्ट्रिया की सेना ने रूसी सेना को पराजित किया।

1914 : तुर्की अधिकारियों ने यहूदियों को तेल अवीव से बाहर खदेड़ दिया गया.

1925 : तत्कालीन सोवियत संघ और तुर्की ने एक दूसरे पर हमला न करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किये.

1927 : भारत के एक प्रमुख क्रान्तिकारी राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी को निर्धारित तिथि से 2 दिन पूर्व ब्रिटिश सरकार ने गोण्डा जेल में फांसी पर लटकाया।

1928 : महान् क्रांतिकारी भगत ंिसह और राजगुरु ने अंग्रेजÞ पुलिस अधिकारी सांडर्स को गोली मारी.

1931 : कोलकाता में ‘भारतीय सांख्यिकी संस्थान’ की स्थापना हुई।

1940 : महात्मा गांधी ने व्यक्तिगत सत्याग्रह आंदोलन स्थगित किया।

1971 : भारत:पाक युद्ध समाप्त।

1972 : भारतीय फÞल्मि अभिनेता जॉन अब्राहम का जन्म।

1996 : नेशनल फुटबॉल लीग का शुभारंभ हुआ।

1998 : अमेरिकी और ब्रिटिश बम वर्षकों ने ‘आपरेशन डेजर्ट फÞाक्स’ के तहत इराक पर भारी बमबारी की।

2000 : नेशनलिस्ट सर्व डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता मिरको सरोविक ने बोस्रिया में राष्ट्रपति पद की शपथ ली।

2005 : भूटान के राजा जिग सिगमे वांचुक को सत्ता से हटाया गया।

2008 : शीला दीक्षित ने दिल्ली की मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की।

2008 : केन्द्र सरकार ने शासन बलों में पदोन्नति के लिए नई पदोन्नति नीति की घोषणा की।

2009 : लेबनान के समुद्री तट पर कार्गो जहाज एमवी डैनी एफ टू के डूबने से 40 लोगों तथा 28000 से अधिक पशुओं की मौत हो गयी।

2014 : अमेरिका और क्यूबा ने 55 साल के बाद दोबारा कूटनीतिक संबंधों को बहाल किया।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *