Mamata Banerjee : 2024 तक हर घर में पीने का पानी, शरणार्थियों का विकास प्राथमिकता : ममता

कोलकाता, 16 दिसंबर । पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता नगर निगम (केएमसी) चुनाव प्रचार के दूसरे दिन यानि गुरुवार को भी महानगर के विकास के लिए कई बड़ी घोषणाएं की है। दक्षिण कोलकाता के बाघजातिन में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 2024 तक हर घर में पीने का पानी, शरणार्थियों की विकास प्राथमिकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में किसी भी निगम ने वह नहीं किया जो हमारे कोलकाता नगर निगम ने किया है। हमें किसी से कोई सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं है। बंगाली काम करना जानते हैं। उन्होंने आगे कहा कि 2024 तक हम पूरे राज्य में घर-घर पाइप से पानी पहुंचाएंगे। जल कर (टैक्स) देश के लगभग सभी भागों में लगाया जाता है। लेकिन बंगाल में पानी पर टैक्स नहीं लगेगा। केंद्र ने जल कर के लिए दबाव डाला है। लेकिन मैं पानी के लिए लोगों पर टैक्स नहीं लगा सकती। उन्होंने आगे कहा कि बंगाल में किसी भी शरणार्थी कॉलोनी को खाली नहीं कराया जाएगा। शरणार्थी कॉलोनी को कानूनी रूप से पट्टे पर दिया जाएगा। इसे केंद्र की सरकारी जमीन पर बनी कॉलोनी से बेदखल नहीं किया जा सकता है।

ममता ने केंद्र पर निशाना साधते हुए आगे कहा कि जब मैं रेल मंत्री थी तो मैंने मेट्रो रेल के लिए दो लाख करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट लागू किया था। लागू होता तो मेट्रो का काम एक साल में पूरा हो जाता। माझेरहाट से टॉलीगंज, जादवपुर से गोरिया, बाईपास से न्यूटाउन तीन फ्लाईओवर बनाया जाएगा।

अपने पसंदीदा रंग की बात करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि कोलकाता को नीला और सफेद होते देख कई लोग मजाक उड़ाते थे। अब दिल्ली और मुंबई भी नीले और सफेद होते जा रहे हैं। यह किसी पार्टी का नीला-सफेद रंग नहीं, बल्कि आकाश की असीमता का प्रतीक है।

‘मां’ कैंटीन की सराहना करते हुए बनर्जी ने कहा कि विरोधियों ने राज्य भर में ‘मां’ कैंटीन की भी तारीफ की है। भविष्य में कैंटीन की संख्या बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि मैंने सिर्फ पांच रुपये में मदर कैंटीन शुरू की है। अकेले कोलकाता में 123 मदर कैंटीन हैं। मैंने सोचा कि एक दिन मैं खाना खाने जाऊंगी। भविष्य में इसे और बढ़ाया जाएगा।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *