महबूबा का मतदान के अधिकार को लेकर सर्वदलीय बैठक का प्रस्ताव

Insight Online News

श्रीनगर, 18 अगस्त : जम्मू कश्मीर के मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा देश के निवासियों के मतदान करने की घोषणा के एक दिन बाद, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को आगे की रणनीति पर चर्चा के लिए एक सर्वदलीय बैठक का सुझाव दिया है।

सुश्री मुफ्ती ने संवाददाताओं से कहा , “ मैंने सबसे वरिष्ठ राजनेता होने के नाते फारूक साहब से बात की और उनसे एक सर्वदलीय बैठक बुलाने का अनुरोध किया, जिसमें वे लोग भी शामिल हों जो हमसे असहमत हैं ताकि हम भविष्य की कार्रवाई कर सकें।” “हम सभी रणनीतियों को उसी के अनुसार तैयार करेंगे क्योंकि यह हमारे अस्तित्व की मामला है”।

जम्मू कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी हिरदेश कुमार ने बुधवार को कहा कि राज्य में सामान्य रूप से रहने वाला देश हरेक नागरिक यहां मतदाता के रूप में पंजीकरण करा सकता है और अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद अगले विधानसभा चुनाव में मतदान कर सकता है।

उन्होंने कहा कि गैर-स्थानीय लोगों को मतदान का अधिकार देना कश्मीर में चुनावी लोकतंत्र के ताबूत में आखिरी कील है। पीडीपी अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि भाजपा इस क्षेत्र का नेतृत्व करने के लिए एक फासीवादी को स्थापित करने के लिए जम्मू-कश्मीर में 25 लाख मतदाताओं को जोड़ना चाहती है।

उन्होंने कहा, ‘भाजपा नाजी जर्मनी और इजरायल की नीति अपना रही है, लेकिन उन्हें इतिहास से सबक लेना चाहिए और ऐसे मॉडल कभी सफल नहीं होते।” उन्होंने जोर देकर कहा कि भाजपा भारतीय ध्वज को भगवा ध्वज से बदलना चाहती है। “भाजपा इस देश को ‘भाजपा राष्ट्र’ बनाना चाहती है, ‘हिंदू राष्ट्र’ नहीं।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लिए जा रहे फैसले निश्चित रूप से कश्मीर में युवाओं को कट्टरपंथी बनाएंगे।

सैनी अशोक, वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *