मेरी आलोचना पाकिस्तानी सेना की बेहतरी के लिए है : इमरान खान

पेशावर । पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को पेशावर में पीटीआई की एक रैली में अपने भाषण के दौरान दावा किया कि सेना की उनकी आलोचना ‘रचनात्मक और सुधार के लिए’ थी। खान की टिप्पणी पर सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने नाराजगी जाहिर की थी।

खान ने कहा, “पीएमएल-एन के लोगों को यह सीधे तौर पर कहना चाहिए कि हम वे लोग हैं जो इस देश की संस्थाओं को मजबूत करेंगे। और अगर हम अपनी सेना की आलोचना भी करते हैं, तो यह उनकी बेहतरी के लिए है। हम जो करते हैं वह रचनात्मक आलोचना है।”

रिपोर्ट में कहा गया है कि इमरान पेशावर के रिंग रोड के पास एक रैली को संबोधित कर रहे थे, जहां उन्होंने दावा किया कि सरकार पाकिस्तानी सेना और देश की ‘सबसे बड़ी पार्टी’ के बीच गलतफहमी पैदा करने की कोशिश कर रही है।

“लुटेरों के इस गिरोह ने महसूस किया है कि वे हमें हरा नहीं सकते। तीनों कठपुतली जानते हैं कि वे मैच खेलकर नहीं जीत सकते .. इसलिए, वे अब मुझे अयोग्य घोषित करने की कोशिश कर रहे हैं।

पीटीआई प्रमुख ने कहा, “आज मैं आपको बताना चाहता हूं कि जब तक हमारी संस्थाएं मजबूत नहीं होंगी, देश सफल नहीं हो सकता।”

-Agency

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *