Narendra singh tomar : राष्ट्रीयप्रौद्योगिकी, नवाचार और निवेश से बदल रहा है कृषि क्षेत्र: तोमर

नई दिल्ली : केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को कहा कि देश में प्रौद्योगिकी, नवाचार और निवेश पर जोर देने की केंद्र सरकार की नीतियों से कृषि क्षेत्र अब बदल रहा है। किसानों-वैज्ञानिकों ने कोरोना महामारी जैसे कठिन समय में भी देश की खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित की है और कृषि क्षेत्र की प्रासंगिकता सिद्ध हुई है। श्री तोमर ने ‘एग्रीकल्चर टुडे ग्रुप’ की ओर से यहां आयोजित 12वें कृषि नेतृत्व सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने नए कृषि सुधार, एक लाख करोड़ रूपए का कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड जैसे अनेक ठोस कार्यक्रम हाथ में लिए हैं, ताकि किसानों की आय बढ़े और उनका जीवन स्तर ऊंचा उठ सकें। कृषि क्षेत्र के माध्यम से देश की अर्थव्यवस्था को लगातार बल मिल रहा है। सरकार की कोशिशों के सद्परिणाम परिलक्षित हो रहे हैं।

समारोह में उत्तर प्रदेश को कृषि के लिए सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार मिलने पर श्री तोमर ने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही के प्रयासों से कृषि के क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन आया है जिसका लाभ करोड़ों किसानों को मिल रहा है। इसी तरह हरियाणा, उत्तराखंड सहित अन्य राज्यों में भी सरकारों द्वारा कृषि के क्षेत्र में अच्छा काम हो रहा है। तोमर ने एग्रीकल्चर टुडे लीडरशिप अवार्ड्स-2021 प्रदान किए, जिसकी जूरी की अध्यक्षता नीति आयोग के सदस्य डॉ. रमेश चंद ने की । हरियाणा को ‘बेस्ट स्टेट फॉर इनोवेशन अवार्ड’ के लिए चुना गया और ‘बेस्ट स्टेट फॉर हॉर्टिकल्चर अवार्ड’ उत्तराखंड को मिला। अमूल के प्रबंध निदेशक आर.एस. सोढ़ी को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड’ से सम्मानित किया गया। नेफेड के प्रबंध निदेशक संजीव चड्ढा ने ‘सर्वश्रेष्ठ सीईओ’ का पुरस्कार जीता।

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के निदेशक डा. ए.के. सिंह, नीति आयोग की वरिष्ठ सलाहकार डा. नीलम पटेल सहित अन्य चयनित संस्थाओं तथा व्यक्तियों को विभिन्न श्रेणियों में अवार्ड प्रदान किए गए। शाही ने कहा कि राज्य सरकार का ध्यान सभी क्षेत्रों में उत्तरप्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने पर केंद्रित है। हरियाणा के कृषि मंत्री जे.पी. दलाल ने कृषि को समृद्ध क्षेत्र बनाने और किसानों की आय बढ़ाने के लिए राज्य सरकार द्वारा की गई विविध पहलों पर प्रकाश डाला। उत्तराखंड के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि सरकार किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। इंडियन चेंबर ऑफ फूड एंड एग्रीकल्चर के अध्यक्ष डॉ. एम.जे. खान ने कहा कि कृषि क्षेत्र में विकास के लिए बहुत बड़े अवसर हैं, और युवाओं को इसका फायदा उठाना चाहिए। कार्यक्रम में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी, ब्राजील के राजदूत आंद्रे कोरा डो लागो, एनआरएए के सीईओ डॉ. अशोक दलवई, सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *