National : कांग्रेस व भाजपा एक ही सिक्के के दो पहलू:मान

चंडीगढ़ 27 सितंबर : पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि सदन में विश्वास प्रस्ताव लाना इस कारण ज़रूरी था क्योंकि कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी एक ही सिक्के के दो पहलू हैं तथा दोनों पार्टियों ने राज्य की चुनी हुई सरकार को तोड़ने के लिए हाथ मिलाया है।

विश्वास प्रस्ताव पेश करते हुये सदन के नेता ने कहा कि भाजपा देश भर में पिछले दरवाजे से अपनी सरकारें बनाने के लिए दल-बदल विरोधी कानून का इस्तेमाल नये हथियार के तौर पर कर रही है और बदकिस्मती से कांग्रेस इसकी हिमायत कर रही है जो भाजपा से सबसे ज्यादा पीड़ित रही है।

श्री मान ने कहा कि भाजपा ने विधायकों को लुभा कर मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक और अन्य राज्यों में चुनी हुई सरकारें भंग की हैं। दिल्ली में तीन बार सरकार भंग करने की कोशिशें की गई और अब पंजाब में पैसों से विधायकों को खरीदने की कोशिशें हो रही हैं। भाजपा राज्य में सत्ता हासिल की मृग तृष्णा के पीछे भाग रही है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की लीडरशिप ने कन्याकुमारी से कश्मीर तक ‘भारत जोड़ो यात्रा’ शुरू की है लेकिन इस यात्रा के दौरान गुजरात और हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों को जानबूझ कर दूर रखा गया है जिससे मतदान में भाजपा को लाभ दिया जा सके। आम आदमी पार्टी ने राजनीति में लोक भलाई का नया एजेंडा स्थापित किया है। यह आम आदमी पार्टी का प्रभाव है कि जो नेता लोगों को बाँटते थे वे अब स्कूलों, कालेजों और अस्पतालों के उद्घाटन करते नज़र आ रहे हैं।

उन्हाेंने कहा कि अब भाजपा में दल-बदलू राज कर रहे हैं और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने अब औपचारिक तौर पर भाजपा का पल्ला पकड़ लिया है। पूर्व मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी पर निशाना साधते हुये उन्होंने कहा कि यह पहली दफ़ा हुआ है कि मतदान में हार के बाद किसी पार्टी का मुख्यमंत्री का चेहरा ही गायब हो गया है। पूर्व मुख्यमंत्री चन्नी के कार्यकाल में हुई अनियमितताओं के कारण ही वह अब गायब हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने लोगो के फंडों के उचित प्रयोग को यकीनी बनाने के लिए ऐतिहासिक स्कीम ‘एक विधायक, एक पैन्शन’ पास की और राज्य भर में 100 के करीब आम आदमी क्लीनिक लोगों को मानक सेहत सेवाएं प्रदान करने के लिए समर्पित किये गए। राज्य भर में लाखों घरों को 600 यूनिट मुफ़्त बिजली मुहैया करवाई जा रही है। एक तरफ़ नयी भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है और दूसरी तरफ़ ठेके पर रखे मुलाजिमों की नौकरियाँ रेगुलर करने की प्रक्रिया भी चल रही है। राज्य सरकार की तरफ से लाभार्थियों को उनके घरों पर जाकर आटा-दाल मुहैया करवाने की योजना जल्द ही शुरू की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कांग्रेस के दिवालियापन को दर्शाता है जो अब अपने विधायकों को बेचने की हद तक चला गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की शिखर की लीडरशिप ने ‘भारत जोड़ो’ यात्रा निकाली है परन्तु वह राजस्थान में अपना घर नहीं संभाल सकी। विरोधी पक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा को आड़े हाथों लेते हुये उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सीनियर नेता ‘ऑपरेशन लोटस’ फेल हो जाने के सदमे में हैं, जैसे उनकी बनायी स्कीमें धराशाही हो गयी हों।

उन्होंने कहा कि इस प्रस्ताव के द्वारा तथ्यों को लोगों सामने रखा जा रहा है क्योंकि सत्र लाइव चल रहा। जो लोग इस सत्र की माँग कर रहे थे वो बहस से भाग गए हैं। कांग्रेसी नेता भाजपा की ‘बी’ टीम के तौर पर काम कर रहे हैं और यह दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि कांग्रेसी नेताओं ने विधान सभा के बहुत ही सम्मानीय पद वाले अध्यक्ष के विरुद्ध शर्मनाक नारेबाज़ी की है।

शर्मा.संजय

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *