National Congress Update : पीएम केयर्स फंड पर राहुल का तंज, कहा- ‘ट्रांसपेरेंसी को वणक्कम’

नई दिल्ली, 17 दिसम्बर। कोविड-19 महामारी के दौरान संकट से निपटने के लिए केंद्र सरकार द्वारा शुरू किए गए ‘प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष’ (पीएम केयर्स फंड) को लेकर कांग्रेस पार्टी ने एक बार फिर सवाल उठाए हैं। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कहा है कि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि पीएम केयर्स फंड सरकारी ट्रस्ट है या निजी ट्रस्ट। ऊपर से सबसे बड़ी समस्या यह है कि सरकार जवाब देने का मन भी नहीं बना पा रही।

पीएम केयर्स फंड को लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर ट्वीट के जरिए तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट किया है, ‘चलिए ट्रांसपेरेंसी को वणक्कम।’ अपने ट्वीट के साथ राहुल ने एक खबर भी साझा की है, जिसमें कहा गया है पीएम केयर्स फंड के दस्तावेजों में विरोधाभास है। यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा कि पीएम केयर्स फंड सरकारी है या निजी। रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि पीएम केयर्स फंड के दस्तावेजों में इसे एक जगह निजी संस्था लिखा गया है।

दरअसल, वर्ष 2018 में तमिलनाडु के कार्यकर्ताओं से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद कर रहे थे। उस दौरान एक कार्यकर्ता ने प्रधानमंत्री से एक सवाल किया, जिससे वो असहज हो गए और जवाब देने के बजाय उन्होंने बात टाल दी। उन्होंने बस इतना कहा, ‘चलिए… पुडुचेरी को वणक्कम।’ प्रधानंमत्री के सवाल टालने के वणक्कम वाले जवाब की तर्ज पर ही राहुल गांधी ने भी पीएम केयर्स फंड पर तमाम प्रश्न उठने के बाद भी स्पष्ट उत्तर नहीं मिलने पर वणक्कम शब्द का प्रयोग किया। वणक्कम शब्द का मतलब नमस्कार होता है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *