National Corona Updates : कोरोना मामले साढ़े 77 लाख के पार,सक्रिय मामले 6.96 लाख

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर : देश में कोरोना संक्रमण के मामले साढ़े 77 लाख के पार हो गये हैं और इस दौरान कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या घटकर अब 6.96 लाख के करीब पहुंच गई है।

विभिन्न राज्यों से प्राप्त रिपोर्टों के मुताबिक गुरुवार देर रात तक संक्रमण के 50,784 नये मामलों के साथ संक्रमितों का कुल आंकड़ा 77,56,206 हो गया है और मृतकों की संख्या 626 और बढ़कर 1,17,277 हो गयी है।

देश में नये मामलों की तुलना में कोरोना महामारी से निजात पाने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है और इसी कड़ी में 69,127 कोरोना मरीजों के ठीक होने के साथ अब तक 69,41,238 लोग इस बीमारी से मुक्ति पा चुके हैं।

कोरोना संक्रमण के नये मामलों में कमी आने और इनकी तुलना में स्वस्थ लोगों की संख्या में वृद्धि होने के कारण सक्रिय मामलों में रिकॉर्ड 19,422 की कमी दर्ज की गयी है। सक्रिय मामले घटकर 6,96,390 पर आ गये हैं।

कोरोना से देश में सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र 1,50,016 सक्रिय मामलों के साथ शीर्ष पर है जबकि केरल 93,291 सक्रिय मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है। कर्नाटक 92,927 मामलों के साथ अब तीसरे स्थान पर है

कोरोना महामारी से सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र में फिर से कोरोना संक्रमण के नये मामलों की तुलना में स्वस्थ लोगों की संख्या में वृद्धि होने से सक्रिय मामलों में गुरुवार को फिर से गिरावट दर्ज की गयी और सक्रिय मामले घटकर डेढ लाख के करीब रह गये। राज्य में इस दौरान स्वस्थ लोगों की संख्या में वृद्धि के कारण सक्रिय मामलों में 8,841 की और गिरावट दर्ज की गयी। सक्रिय मामलों की संख्या घट कर अब 1,50,011 हो गयी।

राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान 7,539 नये मामले सामने आने से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 16,25,197 पहुंच गयी। इसी अवधि में 16,177 और मरीजों के स्वस्थ होने से संक्रमण से मुक्ति पाने वालों की संख्या 14,31,856 हो गयी है तथा 198 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 42,831 हो गयी है। राज्य में मरीजों के स्वस्थ होने की दर बढ़कर 88.10 फीसदी पहुंच गयी है जबकि मृत्यु दर महज 2.63 प्रतिशत है।

कोरोना संक्रमण के मामले में भारत दुनियाभर में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है। अमेरिका में संक्रमितों की कुल संख्या 83,54,300 हो गयी और इस हिसाब से भारत अब 5.98 लाख मामले ही पीछे हैं।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *