National : जियो की 5 जी सेवा दिवाली तक, दो लाख करोड़ का होगा निवेश: अंबानी

मुंबई 29 अगस्त : देश की सबसे बड़ी निजी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने इस वर्ष दिवाली तक देश के प्रमुख शहरों में 5 जी सेवा शुरू करने की सोमवार को घोषणा करते हुये कहा कि उनके समूह की दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो 5जी नेटवर्क के विकास पर दो लाख करोड़ रुपये का निवेश करेगी।

श्री अंबानी ने आरआईएल की 45वीं वार्षिक आमसभा में यह घोषणा करते हुये कहा कि कहा कि जियो अगले साल के अंत तक पूरे देश में 5जी सेवाएं देगी। उन्होंने कहा कि समूचे देश में 5जी नेटवर्क बनाने के लिए उनकी कंपनी कुल दो लाख करोड़ रुपये का निवेश करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि विशेष तौर पर फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में डिजिटल कनेक्टिविटी बन रहा है। उनकी कंपनी 10 करोड़ घरों को अद्वितीय डिजिटल अनुभवों और स्मार्ट होम सॉल्युशन्स से जोड़ेगी।

आकाश-ईशा-अनंत अंबानी के नेतृत्व में जियो के भारत जैसे बड़े देश के लिए 5जी सेवा शुरू करने के वास्ते सबसे तेज और सबसे महत्वाकांक्षी योजना बनाने की जानकारी देते हुये उन्होंने कहा कि दो महीनों के भीतर दिवाली तक दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता जैसे बड़े शहरों में जियो 5जी की शुरुआत की जायेगी। भारत में 5जी सेवाएं महानगरों में शुरू होने के बाद जियो हर महीने अपनी मौजूदगी बढ़ाती जाएगी।

उन्होंने कहा कि अब से 18 महीने के भीतर वर्ष 2023 के अंत तक देश के हर कस्बे एवं तहसील तक जियो की 5जी सेवाएं शुरू हो जाएंगी। रिलायंस ने हाल में संपन्न नीलामी में 88,078 करोड़ रुपये का स्पेक्ट्रम खरीदा है और उसी समय कंपनी ने कहा था कि वह देश में उन्नत 5जी नेटवर्क खड़ा करेगी।

श्री अंबानी ने कहा कि जियो ने देशभर में फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क खड़ा कर लिया है और आज फाइबर-टु-द-होम (एफटीटीएच) का हर तीन में से दो नया उपभोक्ता जियो को ही चुन रहा है। जियो ने अपनी फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड सेवाएं शुरू करने के दो साल के भीतर ही भारत संचार निगम लिमिटेड को इस सेवा में अव्वल से हटा दिया था। भारत फिक्स्ड ब्रॉडबैंड अपनाने के मामले में दुनिया में अभी 138वें स्थान पर है। जियो भारत को इस श्रेणी में शीर्ष 10 देशों तक ले जाएगी।

उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में जियो ने भारत के नंबर 1 डिजिटल सेवा प्रदाता के रूप में अपनी स्थिति को और मजबूत किया है। आज हमारे 4जी नेटवर्क पर 42 करोड़ 10 लाख मोबाइल ब्रॉडबैंड ग्राहक हैं और वे हर महीने औसतन 20 जीबी डेटा का इस्तेमाल करते हैं। जियो का उच्च-गुणवत्ता, मजबूत और हमेशा उपलब्ध रहने वाला फाइबर-ऑप्टिक नेटवर्क, भारत के डेटा ट्रैफ़िक की रीढ़ है। जियो का अखिल भारतीय फाइबर-ऑप्टिक नेटवर्क 11 लाख किलोमीटर से भी अधिक लंबा है। इससे पृथ्वी के 27 बार चक्कर लगाए जा सकते हैं। जियाेफाइबर अब भारत में नंबर 1 एफटीटीएक्स सेवा प्रदाता है, जिसमें 70 लाख से अधिक परिसर जुड़े हुए हैं। यह उपलब्धि कोविड 19 लॉकडाउन के बावजूद दो साल से भी कम समय में हासिल हुई है।

शेखर

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *