National : महिंद्रा एंड महिंदा ने आक्सफोर्ड में स्थापित किया ईवी अवधारणा केंद्र

मुंबई, 15 अगस्त : वाहन विनिर्माता महिंद्रा एंड महिंद्रा ने ब्रिटेन में अत्याधुनिक विद्युत-वाहन डिजाइन स्टूडियो स्थापित किया है। कंपनी की एक विज्ञप्ति में बताया गया है कि महिंद्रा एडवांस्ड डिज़ाइन यूरोप (एमएडीई) नाम से यह एक उत्कृष्टतापूर्ण वैश्विक डिज़ाइन केंद्र होगा।
सोमवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार ऑक्सफोर्डशायर के बैनबरी में एमएडीई का उद्घाटन महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा और ब्रिटेन के अंतरराष्ट्रीय व्यापार मंत्री, रानिल जयवर्धने के साथ किया।
यह महिंद्रा ग्लोबल डिज़ाइन नेटवर्क का एक हिस्सा है जिसमें महिंद्रा इंडिया डिज़ाइन स्टूडियो, मुंबई भी शामिल है।
यह सुविधा कंपनी द्वारा भविष्य में विकसित किए जाने वाले ईवी और उनसे जुड़ी उन्नत अवधारणाओं की कल्पना करने के लिए स्थापित की गयी है। ऑक्सफ़ोर्डशायर अपने उच्चतम अनुसंधान और शैक्षणिक संस्थानों के लिए प्रसिद्ध है। यहां कृत्रिम बुद्धिमत्ता, आटोनॉमिक्स, उन्नत यंत्र-मानव प्रौद्योगिकी जैसी नयी और उभरती हुई तकनीकों के विकास के क्षेत्र में बड़ी संभावनाओं का स्थान माना जाता है।
एमएडीई अत्याधुनिक डिज़ाइन टूल से लैस है, जो इसे अवधारणा, 3डी डिजिटल और भौतिक मॉडलिंग, क्लास-ए सरफेसिंग, डिजिटल विज़ुअलाइज़ेशन और ह्यूमन-मशीन इंटरफ़ेस (एचएमआई) डिज़ाइन सहित एंड-टू-एंड डिज़ाइन गतिविधियों को संभालने में सक्षम बनाता है। इसमें एक पूर्ण डिजिटल विजुअलाइज़ेशन सूट, क्ले मॉडलिंग स्टूडियो, वीआर डिजिटल मॉडलिंग और डिजिटल के साथ-साथ भौतिक प्रस्तुति क्षेत्र भी शामिल हैं।
श्री महिंद्रा ने बयान में कहा,“ महिंद्रा एडवांस्ड डिजाइन यूरोप हमारे नवोन्मेष के तंत्रिका नेटवर्क में एक और महत्वपूर्ण केंद्र है। केवल 15 महीनों में इसके काम से भविष्य के ईवी का एक खाका तैयार कर लिया है। हम आज अपने पत्ते जिस तरह से चलेंगे, वह ईवी की कल दुनिया का आकार तय करेगा। ”
अंतरराष्ट्रीय व्यापार मंत्री, यूके, जयवर्धने ने कहा, “ ब्रिटेन में निवेश सुरक्षित करने से नौकरियां पैदा होती हैं, वेतन में वृद्धि होती है और हमारी अर्थव्यवस्था का विकास होता है। इस तरह हम लोगों को अभी और भविष्य में बेहतर जीवन जीने में मदद करते हैं, इसलिए ऑक्सफोर्डशायर में महिंद्रा के निवेश और विस्तार को देखना शानदार अनुभव है। हम अगले दशक में ब्रिटेन-भारत व्यापार को दोगुना करने का लक्ष्य राख्ते हैं। दोनों पक्षों के बीच मुक्त व्यापार समझौता इस लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम होगा। ”
मनोहर.श्रवण
वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.