National : गुजरात- राजस्थान के सैलानियों से गुलजार हो रहा पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू

सिरोही, 18 नवम्बर । प्रदेश के एकमात्र पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में गुजरात व राजस्थान के सैलानियों की भीड़ उमडऩे लगी है। हर साल शरद ऋतु में यहां गुजरात व राजस्थान के सैलानियों की रेलमपेल रहती है। इस साल दीपोत्सव का त्यौहार निकलते ही सैलानियों से पर्वतीय पर्यटन स्थल गुलजार हो गया है। बड़ी संख्या में पर्यटकों के पहुंचने से पर्यटन से जुड़े लोगों के चेहरे खिल गए हैं। माउंट आबू में पिछले दो दिनों में 5 हजार 955 वाहनों में हजारों की संख्या में पर्यटक पहुंचे और ठंडी वादियों का लुत्फ उठाया।

पर्यटकों के आने से नगरपालिका को भी लाखों रुपये के राजस्व की प्राप्ति हुई है। सैलानी माउंट आबू पहुंचकर नक्की लेक सहित विभिन्न स्थानों का आनंद ले रहे है। सैलानियों की आमद के मद्देनजर प्रशासन भी सतर्क है और पर्यटकों से कोरोना संक्रमण को देखते हुए एहतियात बरतने की अपील कर रहा है।

माउंट आबू में हर साल की तरह इस वर्ष भी हजारों की संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं। इन सैलानियों में ज्यादातर गुजरात से आए पर्यटक हैं। माउंट आबू में 24 घंटे के दौरान 3 हजार 101 वाहनों में पर्यटक पहुंचे हैं, जिससे नगरपालिका को 3 लाख 77 हजार 220 रुपये का राजस्व मिला है। बड़ी संख्या में पर्यटकों के आने पर सुरक्षा व्यवस्था का भी ध्यान रखा जा रहा है। प्रशासन की ओर से अतिरिक्त पुलिस जाब्ता माउंट आबू में तैनात किया गया है।

माउंट आबू की खूबसूरत वादियां गुजरात सहित तमाम प्रदेशों के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती रही है। माउंट आबू सहित आबूरोड तलहटी में पर्यटकों के आने से होटलों और गेस्ट हाउस में ठहरने वाले पर्यटकों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। बड़ी संख्या में पर्यटकों के हिल स्टेशन माउंट आबू पहुंचने के कारण अधिकांश स्थलों पर भीड़भाड़ है। नक्की लेक के साथ ही विश्व प्रसिद्ध जैन मंदिर देलवाड़ा, अधर देवी, गुरु शिखर, अचलगढ़, सनसेट प्वाइंट सहित अन्य स्थानों पर सैलानियों की चहल-पहल हैं। प्रशासन की ओर से पोलो ग्राउंड में वाहन पार्किंग की व्यवस्था की गई है।

प्रशासन की ओर से माउंट आबू पहुंचे पर्यटकों से लगातार कोविड 19 गाइडलाइन की पालना करने की अपील की जा रही है। पर्यटन स्थलों पर बिना मास्क जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है। कोरोना के चलते गुजरे 8 माह से माउंट आबू में पर्यटन व्यवसाय ठप था। ऐसे में दिवाली के बाद पर्यटकों की भीड़ से माउंट आबू में उत्साह की लहर है। पर्यटन से जुड़े लोगों के रोजगार में बढ़ोतरी हुई है। यहां 16 नवंबर को 2 हजार 854 वाहनों से पर्यटक पहुंचे, जिससे नगरपालिका को 3 लाख 35 हजार 810 रुपये की आय हुई, वहीं 17 नवंबर को 3 हजार 101 वाहनों से पहुंचे पर्यटकों से 3 लाख 72 हजार 220 रुपये की आय हुई।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *