National : हृदय शल्य चिकित्सा पर गुरुग्राम में तीन दिन का सम्मेलन, विज ने किया उद्घाटन

नयी दिल्ली, 20 अगस्त : हरियाणा के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री अनिल विज ने शनिवार को गुरुग्राम में हृदय शल्य चिकित्सा में अत्याधुनिक तकनीक पर विशेषज्ञों के एक सम्मेलन का इसका उद्घाटन किया।

आयोजकों की विज्ञप्ति के अनुसार कार्डियोवैस्कुलर (सीवीडी) सर्जरी के क्षेत्र में अत्याधुनिक प्रगति की गहरी सूझबूझ पर केंद्रित देश के प्रमुख संगठन क्रॉनिक टोटल ऑक्लूजन परक्यूटेनियस कोरोनरी इंटरवेंशन (सीटीओ पीसीआई) का यह आठवां सम्मेलन तीन दिन चलेगा।

क्रॉनिक टोटल ऑक्लूजन (सीटीओ) लंबे समय से 100 प्रतिशत बंद धमनियों को खोलने की प्रक्रिया है, जिसमें कार्डियोलॉजिस्ट ड्रग-एल्यूटिंग स्टेंट (डीईएस) डाल कर बंद धमनियों को चालू किया जाता है। ये स्टेंट धीरे-धीरे दिल की धमनियों में दवाएं रिलीज करते हैं-जो (धमनियां) खून को मरीज के हृदय तक ले जाती हैं।

विज्ञप्ति के मुताबिक सर्जरी में विशेष डिजाइन के वायर, गुब्बारे और कैथेटर जैसे सूक्ष्म उपकरणों की मदद से बंद धमनी में छेद किया जाता है ताकि खून का मुक्त प्रवाह सुनिश्चित हो।

आयोजकों ने बताया कि इस सम्मेलन के दौरान इस तरह के आपरेशन का सीधा प्रसारण भी किया जाएगा। इस सालाना सम्मेलन में भारत के 350 से अधिक चोटी के हृदय रोग विशेषज्ञ और जापान, जर्मनी, इटली, कनाडा, यूके और यूएसए के विशेषज्ञ भी भाग ले रहे हैं।

इस साल के सम्मेलन के आयोजक सचिव डिट्रिना ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल्स डॉ. प्रताप कुमार एन ने कहा, “ आईजेसीटीओ भारत और जापान के शल्य हृदय चिकित्सकों का साझा प्रयास है, जिसके तहत वे सीटीओ पीसीआई के बारे में अपने ज्ञान और अनुभव साझा करेंगे। हमारा उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि हृदय रोग विशेषज्ञों को उपयोग में आसान सटीक हार्डवेयर मिले ताकि वे इलाज का बेहतर परिणाम दें। ”

मनोहर.श्रवण

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.